सोनू उप्पल, बरनाला

जिले में प्रशासन द्वारा अति जरूरी चीजों की पूर्ण आपूर्ति के लिए हेल्पलाइन नंबर कंट्रोल रूम लैंडलाइन नंबर 01679- 230032, 01679-234777 व वाट्सएप नंबर 99152-74032, 75280-43032 जारी किए हैं। होम डिलीवरी के लिए वेंडर नंबर जारी किए हैं। इसके साथ ही होम डिलीवरी के लिए वेंडर नंबर की सूची में कुछ जगह लोगों ने विभिन्न जगह कॉल किया और उसमें से कुछ जगह वह नंबर बंद पाए गए, तो कहीं गलत पाए गए। पहला, 5 व 6 नंबर बंद आया, दो व तीन नंबर के दुकानदारों ने कहा कि वह अकेले हैं व होम डिलीवरी संभव नहीं है। इसके साथ 4 व 8 नंबर वाला दुकानदार घी व चीनी का होलसेल करता है, जिसने रिटेल देने से मना कर दिया। 9 नंबर सूची के दुकानदार का नंबर नहीं लिखा गया व 21 नंबर गलत पाया गया। वहीं 11 से 20 नंबर की सूची वाले दुकानदारों में से कुछ के परिवारिक सदस्यों द्वारा फोन उठाया, तो 5 से 7 द्वारा फोन ही नहीं उठाया गया।

केमिस्ट एसोसिएशन ने 24 मार्च को दवाई की डिलीवरी देने से मना कर बायकाट कर दिया था। 25 मार्च को शाम प्रशासन से बैठक की गई, जिसमें करीब 30 कैमिस्ट को कफ्यू पास दिया गया है। परंतु वीरवार शाम तक दवा की होम डिलीवरी की सुविधा शुरू नहीं हुई थी।

जिले में प्रशासन द्वारा अति जरूरी चीजों की पूर्ण आपूर्ति के लिए सब्जी, फल, दूध की डोर टू डोर सप्लाई शुरू करवा दी है। इससे बेशक लोगों को राशन मिलने से थोड़ी राहत मिली व जरुरी सामान की पूर्ति हुई। परंतु एक दूसरे के संपर्क में आने से फैल रहा कोरोना वायरस को लेकर लोग लापरवाह बने बैठे है।

इनसेट

लोगों ने की नारेबाजी

जंडा वाला रोड पर छोटी माता रानी के मंदिर नजदीक जरुरतमंद लोगों द्वारा दिहाड़ी मजदूरी बंद होने के कारण राशन के लिए रुपया नहीं होने से परेशान होकर नारेबाजी की गई। इस अवसर पर जगराज, रानी, बंत्तो, रानौ, किरण, मधू, सुरेश, संतोष ने कहा कि वह खाने पीने का सामान नहीं होने व राशन की कमी के कारण भूखे है, प्रशासन उनकी मदद करें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!