संवाद सूत्र, महलकलां, बरनाला : राज्यसभा सदस्य सुखदेव सिंह ढींडसा द्वारा शिअद पार्टी प्रधान सुखवीर सिंह बादल के खिलाफ चलाई मुहिम का असर अब जमीनी स्तर पर दिखाई देने लगा है। ढींडसा परिवार की इस नीति ने पार्टी के मुश्किल समय में साथ छोड़ पार्टी के खिलाफ जा गद्दारी का सबूत दिया है। यह बात अनुसूचित जाति के नेता रिकू कुतबा ने महलकलां में प्रेस कांफ्रेस दौरान कही। रिकू कुतबा ने कहा कि सुखदेव सिंह ढींडसा व उनके बेटे परमिदर सिंह ढींडसा ने शिअद सरकार के दौरान बड़े पदो पर शासन करके आनंद लिया है। परंतु जब पार्टी मुश्किल समय से गुजर रही है व पार्टी को नेताओं की सेवाओं की जरुरत है, तो अब ढींडसा परिवार पार्टी के खिलाफ बगाबत कर रहा है। ढींडसा परिवार को पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने सदा ही साथ दिया है व पार्टी में उच्च पदों पर तैनात रखा है। उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में हलका महलकलां में अगले संघर्ष की रुपरेखा तैयार की जाएगी व ढींडसा परिवार की बगाबत का जबाव दिया जाएगा। इस अवसर पर अनुसूचित वर्ग के नेता गुरमेल सिंह, डॉक्टर गुरप्रीत सिंह, महेंद्र सिंह, गुरदयाल सिंह, अजमेर सिंह, केवल सिंह, अमृतपाल सिंह आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!