जागरण संवाददाता, अमृतसर : पंजाब सरकार की ओर से राज्य के कांग्रेस के विधायकों के बच्चों को गजटिड पोस्टों पर नौकरियां देने के खिलाफ यूथ अकाली दल कार्यकर्ताओं की ओर से भंडारी पुल पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व अकाली नेता योध सिंह समरा कर रहे थे। प्रदर्शन में बढ़ी संख्या में युवा अकाली दल बादल के वर्कर शामिल हुए। प्रदर्शनकारी राज्य की कांग्रेस सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। प्रदर्शनकारी अकाली वर्करों की ओर से सरकार के खिलाफ झूठे किए गए वादों के संबंध में तख्तियां और बैनर उठाए हुए थे। इस दौरान प्रदर्शनकारियों की ओर से सरकार द्वारा अपनों को ही नौकरियां देने के लिए फैसले के खिलाफ लड्डू बांटते हुए रोष प्रगट किया।

संगठन के नेता योध सिंह समरा ने कहा कि श्री गुटका साहिब की झूठी कसम खाने के बाद सत्ता में आए कैप्टन अमरिदर सिंह ने आजादी के बाद आज तक के सभी रिकार्ड तोड़ते हुए अमीर कांग्रेस विधायकों के बच्चों को तरस के आधार पर नौकरियां देकर आम लोगों और युवाओं के साथ खुलेआम मजाक करके उनकी योग्यता की खिल्ली उड़ाई है। पंजाब सरकार ने यह नौकरियां अपने ही लोगों को देकर साबित कर दिया है कि युवा चाहे जितने मर्जी पढ़ लिख जाएं उनकी योग्यता का कोई मूल्य नही है। नौकरी सिर्फ उनको ही मिलेगी जो मंत्रियों और विधायकों के बच्चे होंगे। सरकारी नौकरी आम युवाओं के लिए नही बल्कि मंत्रियों विधायकों के बच्चों के लिए ही है। उन्होंने कहा कि हर घर रोजगार देने का वादा करने वाला कैप्टन अमरिदर सिंह अपने वायदे से भाग गया है। कैप्टन बताए कि किस घर में युवाओं को नौकरियां दी गई है। सरकार अपने वायदे से पूरी तरह भाग गई है। इस दौरान संगठन के नेता लाली रणीके, किरणप्रीत सिह मोनू आदि भी मौजूद थे।

Edited By: Jagran