जागरण संवाददाता, अमृतसर : नशे के खिलाफ लोगों को जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को मनोरोग अस्पताल में एक वर्कशॉप का आयोजन किया। इस अवसर पर डिप्टी मेडिकल कमिश्नर डॉ. सुमीत सिंह ने कहा कि नशा समाज की उन्नति में बाधा है। यह एक ऐसी बीमारी है जो समाज को अंदर से खोखला कर रही है। लोग नशा मुक्ति मुहिम में शामिल हों और दूसरों को भी इस बुराई से दूर रहने के लिए प्रेरित करें। नशा इंसान को शारीरिक एवं मानसिक रूप से विकलांग बना देता है। जो लोग नशे से मुक्ति पाना चाहते हैं वह दृढ़ संकल्प के साथ नशा मुक्ति केंद्र में आएं। यहां उनका निशुल्क उपचार होगा और वे समाज की मुख्यधारा में शामिल हो जाएंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!