जागरण संवाददाता, अमृतसर

फतेहगढ़ चूड़ियां रोड स्थित एक नामी स्कूल में शनिवार की शाम पुलिस ने छापेमारी कर आइलेट्स की परीक्षा दे रहे 11 फर्जी स्टूडेंट्स को शाम गिरफ्तार किया है। आरोपितों के कब्जे से फर्जी पहचान पत्र, रोल नंबर व अन्य सामान बरामद भी बरामद किया है।

नकली छात्रों की सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर सुधांशु शेखर श्रीवास्तव स्वयं पुलिस बल के साथ स्कूल में पहुंच गए। सभी 11 स्टूडेंट्स को स्कूल की वैन नें बैठाकर जांच के लिए सदर थाना लाया गया है। एडीसीपी लखबीर ¨सह ने बताया कि अभी मामले की जांच की जा रही है। उधर, पकड़े गए छात्रों को छुड़ाने के लिए नेताओं ने भी पुलिस अधिकारियों के फोन घुमाने शुरू कर दिए। बताया जा रहा है कि पुलिस आरोपित विद्यार्थियों को बगैर कार्रवाई के ही उन्हें छोड़ने की तैयारी कर रही है।

परीक्षा भवन में लगभग डेढ़ हजार परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे थे। इस बीच कुछ दलालों के मार्फत फर्जी स्टूडेंट्स अन्य स्टूडेंट्स के स्थान पर बैठकर पेपर दे रहे थे। इस दौरान सुप¨रटेंडेंट को कुछ परीक्षार्थियों पर संदेह हुआ। जब उनके पहचान पत्र जांचे गए तो सारा मामला साफ हो गया। इसके बाद पुलिस को घटना के बारे में सूचित किया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस कमिश्नर स्कूल परिसर में पहुंच गए। पुलिस बल ने जांच के दौरान ऐसे 11 फर्जी स्टूडेंट्स की पहचान की जो किसी अन्य की जगह पर परीक्षा दे रहे थे।

बीते साल सदर और सिविल लाइन थाने में दर्ज हुए थे मुकद्दमें

गौर रहे साल 2017 में सदर थाना और सिविल लाइन थाना क्षेत्र में पढ़ते कुछ होटलों और स्कूलों पर छापेमारी कर आइलेट्स की परीक्षा दे रहे फर्जी स्टूडेंट्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। हालाकि मामला हाईप्रोफाइल होने के कारण उक्त तीन मामलों में से कुछ छात्रों को क्लीन चीट दे दी गई थी।

Posted By: Jagran