जागरण संवाददाता, अमृतसर

23 अगस्त को रंजीत एवेन्यू इलाके में बुजुर्ग हरजोत कौर विरदी को घसीटकर पर्स लूटने वाले दो युवकों को पुलिस ने सोमवार की रात गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों के कब्जे से वारदात को अंजाम देने वाली बाइक और नशे की 1080 गोलियां बरामद की गई हैं। उधर, पुलिस को आरोपितों तक पहुंचने के लिए जनता से काफी सहयोग मिला है। क्योंकि वारदात के बाद से घटनास्थल की वीडियो वायरल हो गई थी। आरोपितों के चेहरे लोग पहचान चुके थे।

डीसीपी जगमोहन ¨सह और एसीपी पल¨वदर ¨सह ने पुलिस लाइन में प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि सूचना मिली थी कि हरजोत कौर से लूटपाट करने वाले गिरोह के सदस्य गुरु अर्जुन देव नगर अमृतपाल ¨सह उर्फ शालु और कोट खालसा स्थित सरकार की पत्ती निवासी राजबीर ¨सह इलाके में लूट की किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं। इसी आधार पर पुलिस ने नाकेबंदी के दौरान उक्त दोनों को रंजीत एवेन्यू इलाके से ही धर लिया। डीसीपी ने बताया कि आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि 23 अगस्त को रंजीत एवेन्यू में वारदात से पहले दोनों ने ओहरी अस्पताल के बाहर एक बाइक चोरी की थी। इसके बाद आरोपित उसी बाइक पर रंजीत एवेन्यू इलाके में पहुंचे और रास्ते पर जा रही हरजोत कौर की रेकी कर उसकी बाजू पर टंगा पर्स झपट लिया। दुर्भाग्यवश पर्स महिला की बाजू में फंस गया और वह लुटेरों की बाइक के साथ घसीटती चली गई। हालाकि घटना के बाद से पुलिस ने मौके पर मौजूद कुछ लोगों से पूछताछ की थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के अलावा मौके पर मौजूद लोगों से उनके स्कैच भी बनवाए थे। नशीली दवाएं सहित दो गिरफ्तार

प्रेस कांफ्रेंस में डीसीपी जगमोहन ¨सह ने बताया कि सूचना मिली थी कि सुल्तान¨वड निवासी जस¨वदर ¨सह उर्फ जॉनी और हरनाम ¨सह नशे की खेप लेकर जा रहे हैं। पुलिस ने नाकेबंदी के दौरान दोनों को धर लिया और उनके कब्जे से नशे की 910 गोलियां और स्कूटर बरामद कर लिया गया है। फिलहाल सुल्तान¨वड थाने की पुलिस ने दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Posted By: Jagran