जागरण संवाददाता, अमृतसर

शिवाला कालोनी मुस्लिम गंज के रहने वाले डिपो होल्डर मनोज छाबड़ा ने न्यू मोहिद्रा कालोनी में निर्माण की एवज में महिला बिल्डिंग इंस्पेक्टर के पति द्वारा रिश्वत मांगने के आरोप लगाए थे। मामले की गंभीरता को देखते हुए कमिश्नर कोमल मित्तल ने वीरवार को बिल्डिंग इंस्पेक्टर को 24 घंटे में पूरे मामले में अपनी स्थिति स्पष्ट करते हुए इसका जवाब देने को कहा है। जवाब न देने की सूरत में उन्होंने कड़ी कार्रवाई की भी चेतावनी दी है।

छाबड़ा ने बुधवार को एमटीपी विभाग में कार्यरत महिला बिल्डिंग इंस्पेक्टर के पति पर पर निर्माण की एवज में एक लाख रुपए मांगने के लिखित शिकायत देकर आरोप लगाए गए थे। छाबड़ा ने आरोपित से हुई बातचीत की आडियो रिकार्डिंग भी कमिश्नर को सौंपते हुए पति-पत्नी पर कार्रवाई की गुहार लगाई थी। शिकायत में उसने कमिश्नर को दस दिन पहले उसने न्यू महिदरा कालोनी पवन नगर में 33 गज जगह खरीदी थी। इस जगह पर तीन दुकानें बनाने के लिए 24 अक्टूबर को नींव भरी।

दो दिन के बाद 26 अक्टूबर को निगम के दो मुलाजिम साइट पर आकर उसका काम रुकवा गए और कुछ देर के बाद ही बिल्डिंग इंस्पेक्टर का पति वहां आ गया और उसने उससे कि उसका काम न रुकवाए, नींव भरवाने के बाद वह बनती सरकारी फीस भर देगा। इस उसने कहा कि सरकारी फीस भरने की जरूरत नहीं है। वह उसे एक लाख रुपये देकर अपनी दुकानें बना लें। वही 20 हजार रुपये इस बाबत शिकायतकर्ता करने वाले को भी देने होंगे। शिकायतकर्ता के अनुसार वह महिला सब इंस्पेक्टर और उसके पति को पहले से जानता था। 24 घंटे में जवाब न दिया तो कार्रवाई

महिला बिल्डिंग इंस्पेक्टर और उसके पति के खिलाफ छाबड़ा ने शिकायत दी थी। जिस पर कार्रवाई करते हुए 24 घंटे में इस बाबत अपना जवाब देने के लिए बिल्डिंग इंस्पेक्टर को कह दिया गया है। अगर जवाब संतोषजनक पर हुआ तो इंस्पेक्टर पर बनती कार्रवाई की जाएगी।

-कोमल मित्तल, निगम कमिश्नर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस