कमल कोहली, अमृतसर :

जय कन्हैया लाल के जयकारों के साथ आज सोमवार को भक्तजन भगवान श्री ठाकुर जी को झूला झूला कर परिवार की सुख शांति के लिए आराधना करेंगे। नन्हे कान्हा के आगमन पर सभी मंदिर रंग बिरंगी लाइटिग वह फूलों के साथ सज गए हैं। सोमवार की शाम को भगवान श्रीकृष्ण को झूला झुलाने के लिए श्रद्धालु मंदिरों में पहुंचना शुरू हो जाएंगे। मंदिरों में भीड़ को देखते हुए मंदिर कमेटियों द्वारा सभी प्रबंध पूरे कर लिए गए हैं। वहीं देर रात तक श्रीकृष्ण रासलीला व संकीर्तन करते हुए भी मंदिर कमेटियों द्वारा तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। घरों में भी जन्माष्टमी मनाने के लिए लोगों द्वारा तैयारियां की जा रही हैं। मंदिरों, घरों व बाजारों में लोगों द्वारा हिडोले बनाने के लिए फाइबर, मिट्टी तथा अन्य तरह की सजावट का सामान खरीदा जा रहा है। देर रात तक मंदिरों में भगवान श्रीकृष्ण के जयकारे गूंजते हुए सुनाई देंगे। वहीं रात 12 बजे मंदिरों में भगवान श्रीकृष्ण के जन्म के साथ ही उनका पंचामृत के साथ अभिषेक करके आरती और आतिशबाजी कर भगवान श्री कृष्ण के आगमन पर खुशी व्यक्त की जाएगी।

स्वर्णाभूषणों से सजेंगे ठाकुर जी

श्री दुग्र्याणा कमेटी के प्रधान एडवोकेट रमेश शर्मा व महासचिव अरुण खन्ना ने बताया कि सोमवार को बाद दोपहर तीन बजे मंदिर के द्वार भक्तों के लिए खोल दिए जाएंगे। श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर के सभी विग्रहों का सोने के आभूषणों के साथ श्रृंगार किया जाएगा। इसके अलावा सरोवर के किनारे भगवान श्री कृष्ण से संबंधित कई झांकियां बनाई जाएगी। मंदिर परिसर में एलईडी स्क्रीन पर भी देख सकेंगे श्रीकृष्ण जन्मोत्सव

परिक्रमा में शिवाला मंदिर, श्री सत्या नारायण मंदिर, तुलसी दास रोड के बाहर वाले रास्ते, श्री हनुमान मंदिर व मां शीतला मंदिर व अन्य मंदिर भी दुल्हन की तरह सजाया गए हैं। तीर्थ परिसर में भक्तों की भीड़ को देखते हुए तीन बड़ी एलईडी स्क्रीन लगाई गई है। ताकि भक्त मंदिर परिसर में हो रहे कार्यक्रम को देख सके। मंदिर परिसर में लंगर की विशेष व्यवस्था की जाएगी। रात को आतिशबाजी जी का अदभुत नजारा होगा।

शिवाला बागभाइया भी सजा

शिवाला बाग भाइया के के ट्रस्टी सुरेश महाजन व बलदेव राज बग्गा ने बताया कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर मंदिर परिसर को रंगबिरंगी लाइटिग से सजाया गया है। प्रात: नौ बजे भगवान श्री कृष्ण का पंचामृत से अभिषेक किया जाएगा। सुरक्षा के किए गए हैं कड़े प्रबंध

पुलिस कमिश्नर विक्रमजीत दुग्गल ने बताया कि पुलिस ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए हैं। हर एक मंदिर की सुरक्षा कड़ी की गई है। बाजारों में भी श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर विशेष प्रबंध किए जाएंगे। श्री दुग्र्याणा तीर्थ शिवाला बाग भाइयां मे भी सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। इसके अलावा महिला पुलिस भी मंदिरों के बाहर तैनात की गई हैं। बाजारों में भी विशेष पैट्रोलिग की जाएगी।

Edited By: Jagran