जेएनएन, अमृतसर। श्रम विभाग ने बुधवार को शहर के विभिन्न भागों में छापामारी करके उन दुकानदारों के चालान काटे हैं जो बाल मजदूरी करवा रहे थे। विभाग की उच्च स्तरीय टीम ने ऐसे दुकानदारों को पांच-पांच हजार रुपये का जुर्माना किया है। साथ ही चेतावनी दी है कि यदि भविष्य में वे बाल मजदूरी करवाते पाए गए तो उनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा।

श्रम विभाग के साथ स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, पुलिस लाइन से इंस्पेक्टर बलजीत सिंह, स्वास्थ्य विभाग से डॉ. किरण कुमार, म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन से मलकीत सिंह, सीडीपीओ विभाग के अधिकारी, शिक्षा विभाग से जसबीर सिंह, डिस्ट्रिक्ट चाइल्ड प्रोटेक्शन कार्यालय से बलविंदर सिंह, असिस्टटेंट लेबर कमिश्नर जागीर सिंह, इंस्पेक्टर शिवदर्शन सिंह, लेबर इंस्पेक्टर विनोद कुमार पर आधारित टीमें सुल्तान विंड रोड पर पहुंची।

टीम ने सुल्तान विंड रोड पर स्थित दो कपडों की दुकानें पर दो बाल मजदूरों को देखा। दोनों ही दुकानों को बुलाकर स्पष्टीकरण मांगा गया। अधिकारियों ने कहा कि 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों से काम करवाना दंडनीय अपराध है। इस पर दुकानदारों ने अपनी गलती स्वीकार की। टीम ने दोनों दुकानदारों को पांच पांच हजार का चालान थमाया है।

यह भी पढ़ें : पंजाब में दो संदिग्‍ध आतंकी गिरफ्तार, कई लाेग थे निशाने पर

Posted By: Ankit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!