जागरण संवाददाता, अमृतसर: दशहरे को लेकर शहर की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। शहर में चार जगहों पर मुख्य रूप से दशहरा समागम हो रहा है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस जवान तैनात कर दिए गए हैं। शुक्रवार की शाम को होने वाले चारों कार्यक्रम में 850 से अधिक पुलिस मुलाजिमों को तैनात किया गया है। इनके अलावा प्रत्येक जगह पर एक एसीपी रैंक का अधिकारी भी होगा, जो समय-समय की रिपोर्ट एडीसीपी और पुलिस कमिश्नर को करेंगे।

पुलिस कमिश्नर डा. सुखचैन सिंह गिल का दावा है कि शहर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस अलर्ट है और जिन जगहों पर रावन दहन होंगे, वहां शांतिपूर्वक तरीके से कार्यक्रम संपन्न करवाए जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों को हिदायत दे रखी है कि अगर कहीं भी कोई माहौल खराब करने की कोशिश करता है तो उस पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। संदिग्ध लोगों पर भी नजर रखी जा रही है। इन कार्यक्रमों में सादी वर्दी में भी पुलिस जवान तैनात रहेंगे। शहर के अलग-अलग हिस्सों में पुलिस ने निकाला फ्लैग मार्च

दशहरे के मद्देनजर शहर की सुरक्षा व्यस्था के चलते शहर के अलग-अलग हिस्सों में फ्लैग मार्च भी निकाला गया। एसीपी स्वर्णजीत सिंह ने थाना वल्ला, थाना मोहकमपुरा, थाना रामबाग के प्रभारी को साथ लेकर बस स्टैंड पर दौरा किया और यात्रियों के सामान की जांच की। यात्रियों को निर्देश दिए गए कि अगर उन्हें कहीं भी कोई संदिग्ध चीज मिलती है, उसकी सूचना पुलिस को दें। वहीं एडीसीपी सिटी वन हरजीत सिंह धालीवाल, एसीपी संजीव कुमार, थाना इस्लामाबाद के एसएचओ, थाना कोतवाली के एसएचओ, थाना सी डिवीजन, गेट हकेमा की एसएचओ ने हाल गेट से हेरिटेज स्ट्रीट, कटरा जैमल सिंह और अन्य बाजारों से फ्लैग मार्च निकाला। एसीपी नार्थ सर्बजीत सिंह बाजवा ने थाना सदर के एसएचओ, थाना सिविल लाइन के प्रभारी के साथ लेकर नावल्टी चौक से सिटी टू के इलाकों में फ्लैग मार्च निकालते हुए लोगों को अपील की कि वह पुलिस का सहयोग दे और त्योहारों को लेकर पुलिस उनकी सुरक्षा को लेकर सतर्क है।

Edited By: Jagran