जागरण संवाददाता, छेहरटा (अमृतसर)

खालसा कॉलेज के सामने हूटर बजाती और 150 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड (रफ्तार) से जा रही काले रंग की स्कॉर्पियो ने शुक्रवार सायं आगे जा रही इटीओस टैक्सी को जोरदार टक्कर मार दी। हादसा इतना भयंकर था कि बेकाबू स्कॉर्पियो सड़क पर कई बार घूमते हुए बीआरटीएस की ग्रिल तोड़कर उनमें फंस गई। दुर्घटना में इटीओस में सवार मुंबई के दंपती बाल-बाल बचे। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस कमिश्नर सुखचैन सिंह गिल ने बताया कि आरोपित को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मुंबई के बुजुर्ग दंपती हिम्मत अपनी पत्नी सहित टैक्सी (इटीओस) में सवार होकर छेहरटा से रेलवे स्टेशन की तरफ जा रहे थे। खालसा कॉलेज के पास पहुंचकर उनके पीछे से हूटर बजाती आ रही स्कॉर्पियो ने उक्त टैक्सी को टक्कर मार दी। लोगों ने बताया कि स्कॉर्पियो की स्पीड 150 किलोमीटर प्रति घंटा थी। टक्कर होते ही टैक्सी सड़क के किनारे लग गई और स्कॉर्पियो बेकाबू होकर वह कई बार घूमते हुए बीआरटीएस की लोहे की ग्रिल में फंस गई। वहीं टैक्सी चालक को मामूली चोटें लगी हैं। जबकि स्कॉर्पियो चालक अपनी दोनों नंबर प्लेट्स और छत पर लगा हूटर उतार कर भाग निकला।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!