जागरण संवाददाता, अमृतसर : नगर निगम के कमिश्नर के तौर संदीप रिषी को अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। रिषी 2004 बैच के पीसीएस अधिकारी हैं और हाल ही में आइएएस पदोन्नत हुए हैं। वह ग्रेटर लुधियाना डवलपमेंट अथारिटी में एडिशनल चीफ एडमिनिस्ट्रेटर का काम भी देखेंगे। सोमवार को उन्होंने पदग्रहण किया और अधिकारियों ने उनका स्वागत करते हुए उन्हें सम्मानित किया।

पीसीएस संदीप रिषी विभिन्न पदों पर काम कर चुके हैं। अमृतसर में एसडीएम, एडीसी, नगर सुधार ट्रस्ट के प्रशासक व अमृतसर डवलपमेंट अथारिटी के प्रशासक के रूप में भी काम कर चुके हैं। उनकी अंतिम पोस्टिंग भी अमृतसर निगम में ज्वाइंट कमिश्नर की ही थी। रिषी को अमृतसर में काम करने का लंबा अनुभव है, पर चुनावी साल होने की वजह से कमिश्नर का पद उनके लिए खासा कांटों से भरा है। विशेषकर उपमुख्यमंत्री, दो कैबिनेट मंत्रियों, सांसद व विधायकों की उम्मीदों पर उन्हें खरा उतराना होगा। सोमवार को पदग्रहण करने पर विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने उन्हें सम्मानित किया। रिषी ने कहा कि निगम में एक टीम की तरह काम होगा और लोगों को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं आने दी जाएगी।

जग्गी के तबादले के बाद मिला चार्ज

मेयर करमजीत सिंह रिटू और पूर्व कमिश्नर मलविदर सिंह जग्गी के बीच तनातनी के हालात में कमिश्नर का तबादला हो गया था। मेयर ने खुद चंडीगढ़ जाकर उनका तबादला करवाया था। जाने से पहले कमिश्नर जग्गी ने कई ऐसी रिपोर्ट साइन कर दी, जिससे नगर निगम की दिक्कतें बढ़ी हैं। वहीं उनकी तरफ से कुछ ठेके भी रद कर दिए हैं। पिछले 14 दिन से कमिश्नर का पद खाली पड़ा हुआ था। अब भी निगम को एडिशनल चार्ज वाला कमिश्नर दिया गया है, जबकि यहां जरूरत पूरा समय देने वाले कमिश्नर की है। हमेशा शहर के हित में काम किया : नाहर

म्यूनिसिपल यूथ इंप्लाइज फेडरेशन के प्रधान आशू नाहर के नेतृत्व में सचिव सुशांत भाटिया, फेडरेशन नेताओं राजकुमार राजू, अशोक हंस, अमरजीत पेडा आदि ने कमिश्नर रिषी को सम्मानित किया। नाहर ने कहा कि संदीप रिषी ने हमेशा ही शहर व मुलाजिमों के हित में काम किया है। उम्मीद है वह आगे भी ऐसे ही काम करेंगे। निगम मुलाजिमों का उन्हें पूरा सहयोग दिया जाएगा।

Edited By: Jagran