संवाद सहयोगी, अमृतसर : धर्म के मार्ग पर चल कर ही समाज में समानता का वातावरण पैदा होता है। जहां प्रभु का सिमरन होता है, वहां पर बुराइयों का नाश हो जाता है। उक्त प्रवचन गद्दी श्री बावा लाल दयाल करमो ड्योढ़ी से निकाली गयी प्रभात फेरी के दौरान भक्तों को संबोधित करते गद्दी नशीन महंत अनंतदास जी महाराज ने किए।

उन्होंने कहा कि मनुष्य की जिस तरह की भावना होती है। उसी के अनुसार उसे फल मिलता है। प्रभु जाप से मनुष्य की भावना शुद्ध होती है। हमें हमेशा एक दूसरे के प्रति मैत्री भाव रखना चाहिए। गद्दी परिसर से महंत अनंतदास जी महाराज ने बावा लाल दयाल जी की पूजा अर्चना कर प्रतिमा के आगे ज्योति प्रज्ज्वलित की। प्रभातफेरी मंदिर परिसर से कटड़ा करम सिंह के क्षेत्रों में कई भक्तों के घरों में गई, जहां पर भक्तों ने पालकी का फूलों की बारिश से स्वागत किया।

प्रभातफेरी में संकीर्तन मंडलियों ने बावा लाल दयाल जी का गुणगान करके भक्तों को निहाल किया। भक्त रमेश शर्मा के घर प्रभात फेरी जब पहुंची तो उनके परिवार ने सतगुरु जी की आरती करके भक्तों को प्रसाद वितरित किया। प्रभात फेरी मदन लाल के गृह में जाकर संपन्न हुई। इस अवसर पर अजय कुमार, रमेश रानी, रमन भल्ला, सुभाष कुमार, अमरीश गोयल, कृष्ण कुमार, अशोक कुमार, राजू भाटिया, अतुल भाटिया, दीपांशु भल्ला, सन्नी महाजन, पवन गुप्ता, शक्ति कुमार आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!