जागरण संवाददाता, अमृतसर: किसान मजदूर संघर्ष कमेटी पंजाब का रेल रोको आंदोलन आठवें दिन में प्रवेश कर गया है। किसानों की ओर से गांव देविदासपुरा में रेल ट्रैक पर धरना देते हुए अमृतसर से कांग्रेस सांसद गुरजीत सिंह औजला, मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और कांग्रेस पंजाब के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू का फूंक कर रोष जताया। किसान पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।

किसानों को संबोधित करते हुए संगठन के महासचिव सरवन सिंह पंधेर, हरप्रीत सिंह सिधवां और सतनाम सिंह चाहल ने कहा कि सांसद गुरजीत सिंह औजला द्वारा रविवार किसानों मजदूरों के रेल रोको आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश करते हुए किसान मजदूरों की मानी हुई मांगों को लागू करवाने की जगह रेल रोको आंदोलन खत्म करने का बयान दिया है। इसके विरोध में पूरे पंजाब में सांसद औजला, मुख्य मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और नवजोत सिद्ध के पुतले फूंके गए हैं।

रेलवे ट्रैक देविदास पुरा में पुतला फूंकते हुए किसान नेताओं ने कहा कि रेल रोको आंदोलन के अलावा जिले में और भी धरने चल रहे हैं। कत्थूनंगल टोल प्लाजा पर फीमेल हेल्थ वर्करों द्वारा दिन रात पक्का धरना लगाया हुआ है। रोडवेज कर्मी भी हड़ताल पर है, इसके अलावा बेरोजगार टीचर और युवा भी अपना हक लेने के लिए सड़कों पर हैं। उन्होंने कहा कि सांसद गुरजीत औजला का बयान भड़काऊ है मांगों की ओर ध्यान न देकर इसे उलझा रहे हैं। इस मौके पर सलविदर सिंह जियोबाला, मुख्तार सिंह बिहारीपुर, दयाल सिंह मियांविड, हरबिदर सिंह, दलबीर सिंह मानक पुरा, निरंजन सिंह बरगाड़ी, जरनैल सिंह नूरदी, दिलबाग सिंह पहुविड, सुखविदर सिंह, कुलदीप सिंह ने भी संबोधित किया।

Edited By: Jagran