जागरण संवाददाता, अमृतसर

टीबी मरीजों को तंदरुस्त रखने के लिए पंजाब सरकार की ओर से हाई प्रोटीन डाइट उपलब्ध करवाई जा रही है। टीबी मरीजों को पंजीरी खिलाकर तंदुरुस्त बनाने की कवायद सरकार ने छेड़ दी है। वीरवार को जिला टीबी अस्पताल में 130 मरीजों को यह पंजीरी खिलाई गई। इस अवसर पर जिला टीबी अधिकारी डॉ. नरेश वाला ने कहा कि पंजीरी एक पौष्टिक खुराक है। इससे टीबी मरीजों में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होगी और बीमारियां उन्हें घेर नहीं पाएंगी। सिविल सर्जन डॉ. हरदीप ¨सह घई के निर्देश पर मरीजों को पंजीरी खिलाने का अभियान शुरू किया गया है। हर टीबी मरीज को तब तक प्रतिदिन पंजीरी खिलाई जाएगी जब तक वह रोग मुक्त नहीं हो जाता। पंजीरी में कनक, बादाम, सोयाबीन, मूंगफली के दानों का मिश्रण हैं। डॉ. चावला के अनुसार टीबी मरीज को अन्य कई बीमारियां घेर लेती हैं, क्योंकि टीबी की वजह से उसके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर पड़ जाती है। यही वजह है कि पंजाब सरकार ने सभी मरीजों को पंजीरी खिलाकर तंदरुस्त बनाने की रूपरेखा तैयार की थी। सरकार ने 2022 तक पंजाब को टीबी मुक्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इस अवसर पर डॉ. बलजीत ¨सह, दीपक खुराना, हरप्रीत कौर, नरेश कुमार आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran