जेएनएन, अमृतसर। किसानों ने अपनी मांगों को लेकर शनिवार को स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के होली सिटी स्थित आवास के बाहर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने जमकर नारेबाजी की और धरना दिया। किसानों ने कहा कि सरकार उनकी मांगों की अनदेखी कर रही है।

शनिवार दोपहर किसान संगठन किसानों को लेकर सिद्धू के आवास के बाहर जमा हो गए। उन्होंने कहा कि किसानों की समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, लेकिन न राज्य और न केंद्र सरकार उनकी मांगों के प्रति गंभीर है। कर्ज के बोझ तले डूबे किसान लगातार खुदकशी कर रहे हैं, लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही। केंद्र सरकार ने स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों पर अमल का वायदा किया था, लेकिन कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने भी किसानों के लिए कुछ नहीं किया।

किसानों को समझातीं नवजोत सिद्धू की पत्नी डॉ. नवजोत कौर सिद्धू।

किसानों को समझाने के लिए सिद्धू की पत्नी डॉक्टर नवजोत कौर सिद्धू घर के बाहर आई, लेकिन किसानों ने उनकी एक न सुनी। किसानों ने कहा कि उनकी मांगों को लेकर पहले ठोस आश्वासन दिया जाना चाहिए। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल भी तैनात है। किसान सिद्धू के घर के बाहर डटे हैं।

यह भी पढ़ेंः पंजाब को नजरअंदाज कर पहाड़ी राज्यों को विशेष रियायत मिलने से कैप्टन खफा

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!