संवाद सहयोगी, अमृतसर

एफडीआइ गो बैक, केंद्र सरकार होश में आओ के नारों के साथ शहर के व्यापारियों ने एफडीआइ व ई कॉमर्स की शव यात्रा निकालकर केंद्र सरकार की व्यापारी विरोधी नीतियों के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की। अमृतसर डिस्ट्रीब्यूटर एसोसिएशन के आह्वान पर रविवार को भंडारी पुल से निकाली गई शव यात्रा श्री दुग्र्याणा तीर्थ स्थित शिवपुरी के बाहर संपन्न हुई। इसमें पंजाब डिस्ट्रीब्यूटर एसोसिएशन व पंजाब व्यापार मंडल, अमृतसर रिटेल करियाना मर्चेंट एसोसिएशन, जिला व्यापार मंडल, पंजाब प्रदेश कांग्रेस व्यापार मंडल व अन्य कई एसोसिएशनों के पदाधिकारी शामिल हुए।

व्यापारियों ने हाथों में एफडीआइ गो बैक, व्यापार बचाओ-व्यापारी बचाओ के नारों की तख्तियां पकड़ कर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। व्यापारियों ने एफडीआइ व ई कामर्स की चौंक में अर्थी रखकर स्यापा भी किया। पीडीए के प्रधान एनआर अग्रवाल व एडीए के प्रधान अनिल कपूर ने कहा कि एफडीआइ, ई कामर्स खुदरा व्यापार में शत प्रतिशत दखलअंदाजी केंद्र सरकार की इजाजत से की जा रही है। यूपीए सरकार ने 49 प्रतिशत एफडीआइ को इजाजत दी थी लेकिन एनडीए सरकार ने इसे 100 प्रतिशत कर दिया है। जब एनडीए विपक्ष में थी तो इन्होंने एफडीआइ को रोकने के लिए जोरदार भाषण दिया था तथा व्यापारियों का दिल जीत लिया था। पर अपनी सरकार बनने के साथ ही एफडीआइ को शत प्रतिशत लागू करके व्यापारी विरोधी होने का प्रमाण दिया है। खुदरा व्यापार में दखलअंदाजी से देश में बेरोजगारी बढ़ने से एफडीआइ व ई-कामर्स का काफी बड़ा हाथ है। तबाह हो जाएगा डिस्ट्रीब्यूटरों का व्यापार

व्यापारी नेताओं ने कहा कि विदेशी मूल की कंपनियां एफडीआइ, ई कामर्स के माध्यम से माल सस्ते दामों में या उधार बेचती हैं। कंपनियां डिस्ट्रीब्यूटरों को जो आइटम 100 रुपये में देती है, वह आइटम एफडीआइ, ई-कॉमर्स के माध्यम से 15 से 20 प्रतिशत कम दाम पर बेचती है। जिससे डिस्ट्रीब्यूटरों का व्यापार आधा रह गया है। सरकार ने यदि एफडीआइ व ई कामर्स के बढ़ रहे कदमों को ना रोका तो भारत का व्यापार समाप्त हो जाएगा। सरकार सिर्फ बड़े घरानों को खुश करने में लगी हुई है। दिन-प्रतिदिन हालात खराब होते जा रहे हैं। छोटे व्यापारी अपनी दुकानें बंद करने को विवश हैं। ई कॉमर्स के जरिए जहां उपभोक्ता को नुकसान हो रहा है वहीं सरकार को रेवेन्यू का भी घाटा पड़ रहा है। सरकार जल्द न जागी तो समूह व्यापारी संगठन संघर्ष करने पर मजबूर हो जाएंगे।

प्रदर्शन में बढ़ चढ़कर पहुंचे व्यापारी

रोष प्रदर्शन में शहर के व्यापारियों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। इस अवसर पर प्यारे लाल सेठ, सु¨रदर जैन, राणा महाजन, जीतेंदर पाल ¨सह बेदी, रंजन अग्रवाल, हीरा लाल गंभीर, कृष्ण मेहरा, संजय कपूर, दिनेश आहूजा, विजय भसीन, अविनाश, तरूण कुमार, बूटा राम, संदीप गुप्ता, सुमित जैन, अमरप्रीत ¨सह विक्की, पार्षद संदीप रिक्का, अशोक कुमार ¨डपी, आशू रवि प्रकाश, सुख¨जदर औलख, संजीव शर्मा, जसवंत ¨सह, गुरदेव ¨सह, संदीप गुप्ता, दीवान चंद, रितेश ठुकराल, बल¨वदर अरोड़ा, विवेक छिब्बड़, वरूण गोयल, अजय मित्तल, कुंज बिहारी, विनोद गुप्ता व अन्य सदस्य मौजूद थे।

Posted By: Jagran