संवाददाता, अमृतसर

बिजली चोरी रोकने के लिए पावरकॉम ने युद्धस्तर पर अभियान शुरू कर दिया है। इसके तहत शनिवार-रविवार दो दिवसीय अभियान के पहले दिन बॉर्डर जोन में अभियान चलाया गया। बॉर्डर जोन में अभियान के तहत विभागीय टीमों ने कुल 7818 बिजली के कनेक्शनों की जांच की, जिसमें 337 कनेक्शनों में चोरी के केस पकड़ने पर बिजली चोरी करने वालों को कुल 44.75 लाख रुपए जुर्माना ठोका है।

बॉर्डर जोन के चीफ इंजीनियर संदीप कुमार सूद ने टीमों को बिजली चोरी पकड़ने के लिए आदेश जारी किए थे, जिसके बाद गठित टीमों ने गुरदासपुर सर्किल में कुल 1340 कनेक्शन चेक किए, जिनमें से 121 कनेक्शनों में हेराफेरी करने पर 7.26 लाख जुर्माना डाला गया। जबकि तरनतारन सर्किल में 4015 कनेक्शनों की जांच की गई, जिनमें से 105 कनेक्शनों में चोरी होने पर 17.35 लाख रुपए जुर्माना ठोका गया। अमृतसर के सिटी सर्किल में भी टीमों द्वारा कुल 436 कनेक्शनों की जांच की गई, जिनमें से 20 कनेक्शनों में हेराफेरी दर्ज करने पर 6.85 लाख रुपए जुर्माना डाला गया। जबकि अमृतसर के सब-अर्बन सर्किल में 2027 कनेक्शनों की चे¨कग की गई, जिनमें से 91 बिजली चोरी के केसों में 13.29 लाख रुपए बिजली चोरी करने वालों को जुर्माना ठोका है। बार्डर जोन के चीफ इंजी. संजीव कुमार सूद का कहना है कि बिजली चोरी करना एक अपराध है और बिजली चोरी कराने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!