जेएनएन, अटारी (अमृतसर)। पाकिस्तान सरकार ने दो भारतीय मछुआरों को रिहा किया है। दोनों काे तोहफे में गंभीर बीमारियां मिली हैं। एक अधरंग और दूसरा कैंसर रोग से पीडि़त है। इन कैदियों में दाना भाई को कैंसर और रामा भाई को अधरंग है। दोनों को यह बीमारी पाकिस्‍तान की जेल में मिला।

दोनों कैदियों को पाकिस्‍तान सतलुज रेंजर के डिप्टी सुपरिंटेंडेंट मोहम्मद फैसल अली ने शुक्रवार को बीएसएफ के ए कमांडेंट निर्मलजीत सिंह को सौंपा। अंतरराष्ट्रीय अटारी- वाघा सीमा पार कर सड़क मार्ग से आए भारतीय मछुआरों की इमीग्रेशन अधिकारियो ने जरूरी कार्रवाई करने के उपरांत नायब तहसीलदार अटारी कर्णपाल सिंह थिंद को सौंप दिया। भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने दोनों से पूछताछ करनी चाही पर वे कुछ बताने में असमर्थ थे। 

रिहा किए गए कैदी गुजरात के सोमनाथ के कंजोतर सूत्र पटागिर के निवासी राम गोपाल व गुजरात के कच्ची कचीचियां कलौट निवासी दाना चौहान पुत्र अर्जुन उर्फ दाना भाई  हैं। दोनों पाकिस्तान की जेल में सजा भुगतने समय बीमारी की चपटे में आ गए। बता दें पाक की जेलों मे भारतीय मछुआरों के साथ बुरा व्यवहार किया जा रहा है। पानी तथा खाना पीना भी ठीक से नहीं दिया जाता है। इस कारण कई कैदियों की भी मौत हो चुकी है और कई भयानक बीमारियों से जूझ रहे हैं।

 

Posted By: Sunil Kumar Jha