जागरण संवाददाता, अमृतसर : नागरिकता संशोधन एक्ट (सीएए) को पंजाब में लागू करने के लिए शरणार्थियों ने शुक्रवार को 'भारत माता का जय' के नारे लगाते हुए कचहरी चौक से डीसी ऑफिस तक धन्यवाद मार्च निकाला। मोदी सरकार के लिए धन्यवाद और पंजाब सरकार के लिए एक्ट लागू करने संबंधी एडीसी (डी) विशेष सारंगल को मेमोरंडम दिया।

कचहरी चौक से शुरू हुए धन्यवाद मार्च में शरणार्थियों के साथ वकीलों, विद्यार्थी परिषद के नेताओं और भाजपा नेताओं और वर्करों ने भी हिस्सा लिया। कहा-नरिदर मोदी के प्रयासों से बने एक्ट लागू होने पर उनकी जिदगी बदल जाएगी। इससे उन्हें जीने का ही अधिकार नहीं मिलेगा बल्कि आगे बढ़ने के मौके मिलेंगे। उन्होंने कैप्टन सरकार से इस संबंधी अपील की और मुख्यमंत्री के नाम एडीसी सारंगल को संदेश दिया। इस मौके पर पेशावर के सुरजीत सिंह, प्रीतम, सिंह, पेशावर के हरद्वारी लाल, बोध राज शर्मा, गुलजारी लाल, शिव कुमार, अफगानिस्तान के सूरवीर सिंह, विद्यार्थी परिषद राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य प्रतीक कपूर, भाजपा युवा मोर्चा अध्यक्ष गौतम अरोड़ा और एडवोकेट रणबीर कौशल ने भी धन्यवाद मार्च में हिस्सा लिया। मेमोरेंड पंजाब सरकार को भेजेंगे : एडीसी शरणार्थियों ने पंजाब में सीएए लागू किए जाने संबंधी मुख्यमंत्री के नाम मेमोरेंडम दिया है। यह सरकार स्तर पर होने वाली कार्रवाई है। इसमें हर पक्ष को सुना है और मेमोरंडम सहित इसकी रिपोर्ट पंजाब सरकार को भेजेंगे।

-विशेष सारंगल, एडीसी (विकास), अमृतसर। एक्ट का विरोध न करें, हमारा साथ दें : शर्मा

पेशावर से विस्थापित होकर पंजाब में आए बोधराज शर्मा ने कहा कि इस एक्ट का विरोध करने के बजाए दंगा करने वालों को उनके साथ खड़ा होना चाहिए। इसका संबंध मुस्लिम देशों से जान और इज्जत बचा कर आए शरणार्थियों के साथ है। यह एक्ट उन्हें एक नई पहचान देगा और भारत में जीने का अधिकार भी। एक्ट का विरोध कर हालात खराब न करें : सूरवीर अफगानिस्तान से साल 1992 में विस्थापित होकर आए सूरवीर सिंह ने कहा कि कुछ लोग सीएए को लेकर लोगों को गुमराह कर भारत के हालात खराब करने के प्रयास कर रहे हैं। विपक्षी दल के नेताओं को यह बात समझनी चाहिए। उन्होंने दंगा करने वालों से सहयोग की अपील की। अब पंजाब में भी लागू किया जाए एक्ट : बोधराज पेशावर से विस्थापित होकर खंडवाला स्थित पिशोरी कैंप में रह रहे बोधराज शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार के बाद अब राज्य सरकार को उनके बारे सोचना है। नागरिकता संशोधन एक्ट का विरोध न कर इसे पंजाब में लागू किया जाना चाहिए। अब शरणार्थियों को पंजाब सरकार से बड़ी उम्मीदें हैं। देशभर में हो रहे दंगों से पहुंच रहा दुख : शिव कुमार पेशावर के शिव कुमार ने कहा कि सीएए पर देशभर में हो रहे दंगों से उन्हें दुख हुआ है। उन्हें लगता है कि ऐसा उनके कारण हो रहा है। उन्होंने दंगा करने वालों से अपील की कि वे भारत की संपत्ति को आग के हवाले नहीं करें। वह भी उनके भाई हैं तो इसमें उनका साथ देकर भारत में खुशी-खुशी से रहने का मौका दें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!