जासं, अमृतसर। शहर में लुटेरे बेखौफ होकर वारदात को अंजाम दे रहे हैं। पहले अधिकतर घटनाएं सूरज ढलने के बाद हो रही थीं, परंतु अब तो सुबह और दिन चढ़ते ही वे वारदातों को अंजाम देने लगे हैं। इससे पता चल रहा है कि अपराधियों में अब पुलिस का डर खत्म होता जा रहा है। ताजा घटना शहर के पाश एरिया बसंत एवेन्यू में हुई है। सिविल अस्पताल की नेत्र रोग विशेषज्ञ डा. शालू अग्रवाल को लुटेरों ने शिकार बना लिया। मोटरसाइकिल सवार आए लुटेरों ने उनका मोबाइल फोन छीन लिया।

बसंत एवेन्यू में रहती डा. शालू सोमवार सुबह लगभग छह बजे वह अपने घर के सामने स्थित पार्क में सैर करने जा रही थी। इसी बीच मोटरसाइकिल पर आए दो युवकों ने झपट्टा मारकर उनके हाथ से मोबाइल छीन लिया। सुबह उस समय सड़क पर आवाजाही नहीं थी। डा. शालू ने शोर मचाया पर लुटेरे फरार हो गए। इस घटना की जानकारी पुलिस चौकी फैजपुरा को दी गई है। पुलिस द्वारा लुटेरों की तलाश में छापामारी की जा रही है।

पाश एरिया में हुई इस घटना के बाद लोगों में रोष पाया जा रहा है। लोगों के अनुसार पहले भी लूट व स्नैचिंग की घटनाएं हो चुकी हैं। पुलिस की ओर से अभी तक लुटेरों को पकड़ा नहीं जा सका। लोग अपने ही घरों में असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

दो दिन बाद भी हाथ नहीं आए शोरूम से पिस्तौल लूटने वाले आरोपित

पुलिस थाना सदर के अधीन पड़ते मजीठा रोड पर स्थित 26 नंवबर की की रात ग्रीन फील्ड इलाके में बाइक सवार दो लुटेरों ने गहना कारोबारी रोशन लाल के शोरूम में घुसकर उनकी पिस्तौल लूट ली। जब यह घटना हुई तब रोशन लाल दुकान बंद करने की तैयारी कर रहे थे।

बाइक पर ये दो युवक उनसे अंगूठी देखने के बहाने दुकान में आए और फिर काउंटर के गल्ले में रखी पिस्तौल लेकर फरार हो गए। सोमवार को तीसरे दिन तक पुलिस आरोपितों को नहीं ढूंढ पाई है। एसीपी वरिंदर खोसा ने बताया कि आरोपितों की तलाश के लिए पुलिस की ओर से छापामारी जारी है।

करनी वाले बाबा बता महिला से ठगी बालियां, हाथ नहीं आए आरोपित<ङ्कक्चष्टक्त्ररुस्न>श्री दुर्ग्याणा मंदिर के पास 26 नंवबर की शाम को ठग गिरोह ने महिला को अपने झांसे में लेकर उससे सोने की बालियां छीन लीं। हाथी गेट के पास रहती मधु गुप्ता बीते शनिवार शाम रेलवे स्टेशन के पास गई थी। इस दौरान वहां सरकारी स्कूल के पास एक बाबा के भेष में व्यक्ति मिला। उसने उन्हें रोक लिया और आशीर्वाद देने लगा।

इस बीच एक महिला वहां पहुंची और बाबा को बहुत करनी वाले बताकर उनका बखान करने लगी। देखते ही देखते मधु बेसुध सी हो गई और आरोपितों ने उनसे कान में पहनी सोने की बालियां ले ली। इसके बाद दोनों आरोपित फरार हो गए। इन आरोपितों का दो दिन बाद भी पता नहीं लगा है

19 नवंबर को कारोबारी से की गई थी लूट की कोशिश

19 नवंबर की रात कारोबारी रंजीत सिंह वल्ला अपनी गहनों की दुकान बंद करके कार में अपने घर सुल्तानविंड रोड जा रहे थे। जंडियाला गुरु के नजदीक निरंकारी भवन के पास वह पेशाब करने रुके। तभी दो लुटेरों ने उनसे लूटपाट की कोशिश की। तभी एक युवक ने पिस्तौल रंजीत पर तान दी।

रंजीत ने अपनी लाइसेंसी पिस्तौल निकालकर उनमें से एक युवक को गोली मार दी। इससे व वल्ला निवासी आरोपित शिवा की मौत हो गई और दूसरा साथी फरार हो गया। मृतक शिवा से पिस्तौल और चार कारतूस भी बरामद किए थे। पुलिस अभी दूसरे युवक की तलाश कर रही है। 

Edited By: Pankaj Dwivedi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट