जागरण संवाददाता, अमृतसर : इंडियन ऑर्थोडॉन्टिक सोसायटी ने ऐसे बच्चों का निशुल्क उपचार करने का बीड़ा उठाया है जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं। श्री गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर सोसायटी ने यह निर्णय लिया है। इस संबंध में 20 से 22 नवंबर को होटल रेडीसन ब्लू में ऑर्थो डेंटिस्ट डॉक्टरों की कांफ्रेंस का आयोजन किया जाएगा, जिसमें देश-विदेश के प्रसिद्ध डॉक्टर शामिल होंगे। इस कांफ्रेंस की ऑर्गेनाइजिंग कमेटी के चेयरमैन अमृतसर के डॉ. जगप्रीत सिंह संधू हैं।

रविवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए डॉ. जगप्रीत सिंह ने बताया कि स्माइल के इस प्रोग्राम के जरिए बच्चों का फ्री इलाज किया जाएगा। हाल ही में अमेरिका में रिसर्च हुई है कि जिन बच्चों की मुस्कान अच्छी होती है, वह अधिक वेतन प्राप्त करते हैं। इंडियन ऑर्थोडॉन्टिक सोसायटी की कांफ्रेंस में ऑर्थोडॉन्टिक में नई तकनीकों का समावेश देखने को मिलेगा। इसमें देशभर के डेंटल कॉलेजों के स्टूडेंट्स शामिल होंगे, वहीं दांतों की बीमारियों से बचाने के लिए जागरूकता कैंप लगाए जाएंगे। गुरु नगरी में ऐसा अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन पहली बार स्माइल-2020 लाने का मकसद बच्चों के चेहरे पर मुस्कान लाना है। अब नहीं होते 32 दांत

डॉ. जगप्रीत सिंह के अनुसार अब बच्चों के मुंह में 32 दांत नहीं आते। बच्चे जंक फूड खाने लगते हैं, जिससे जबड़ों का आकार कम होने लगा है। पहले बच्चे गन्ना चूसते थे चबाते थे, अब ऐसा नहीं है। अब लाखों में ऐसे बच्चे का जन्म होता है जिसके 32 दांत निकलते हों।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!