जागरण संवाददाता, अमृतसर

पश्चिम बंगाल से दादी के साथ गुरु नगरी घूमने पहुंची 15 साल की एक लड़की का रविवार की शाम कुछ लोगों ने बुर्ज बाबा फूला ¨सह के पास अपहरण कर लिया। किशोरी ने दादी से कहा था कि वह बस में सवार हों और वह कुछ देर में पानी बोतल लेकर आ रही। इसके बाद किशोरी सारी रात नहीं आई। इतने में बस में सवार सभी यात्रियों में अफरातफरी फैल गई और घटना के बारे में तुरंत रामबाग थाने की पुलिस को सूचित किया गया।

मामले की गंभीरता को देखते हुए फिलहाल रामबाग थाने की पुलिस ने पश्चिम बंगाल के कंठियार जिला के मदनीपुर इलाके में रहने वाली अलका अधक के बयान पर उनकी दोहती मल्लिका के अपहरण के आरोप में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच कर रहे एएसआइ सतनाम ¨सह ने दावा किया है कि मामले को जल्द सुलझाकर अपहरणकर्ताओं को तुरंत धर लिया जाएगा। पुलिस ने अपहरण के पीछे प्रेम प्रसंग होने की आशंका जताई है। मामले के तार अमृतसर और जालंधर के आपसास कुछ ठिकानों से जुड़ रहे हैं। जांच में सामने आया कि आधार कार्ड भी लड़की के साथ है।

शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि उनकी दोहती कुछ महीनों से अमृतसर घूमने की जिद कर रही थी। पिछले सोमवार को उनके इलाके के कुछ यात्रियों ने ढाई लाख रुपये में पंजाब और हिमाचल के धार्मिक स्थलों के दर्शन के लिए बस बुक कर ली थी। शनिवार की शाम वह गुरु नगरी पहुंचे और श्री दरबार साहिब माथा टेकने के बाद वापस जाने की तैयारी कर रहे थे। उनकी बस बुर्ज बाबा फूला ¨सह के बाहर पार्क थी। सभी यात्री बस में सवार हो गए। इस बीच मल्लिका ने उन्हें (दादी) को बताया कि वह पीने का पानी लेने जा रही है और इसके बाद वह लौट कर नहीं आई।

Posted By: Jagran