नवीन राजपूत, अमृतसर :

नाभा जेल ब्रेक के मास्टर माइंड और गैंगस्टर गोपी घनशामपुरा का खासमखास गुरजीत ¨सह उर्फ लाडा ने ही 17 मई, 2017 में अजनाला में डॉक्टर मुनीष का अपहरण किया था और फिरौती वसूलने के बाद वह सीधा उत्तर प्रदेश चला गया। कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश के कांग्रेसी नेता संदीप तिवारी उर्फ ¨पटू तिवारी की गिरफ्तारी के बाद पटियाला पुलिस ने लाडा को गिरफ्तार कर लिया था। हाल ही में लाडा को पटियाला जेल से प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार कर जेआईसी (ज्वाइंट इंटेरोगेशन सेंटर) लाया गया। पता चला है कि इंटेरोगेशन में लाडा ने स्पेशल सेल के सामने कई राज उगले हैं।

लाडा ने बताया कि 17 मई की शाम उसने अजनाला से अपनी कार में लौट रहे डॉक्टर मुनीष का अपहरण कर लिया था। उक्त वारदात में उसके साथ गोपी घनशामपुरा, मीरा कोट निवासी शेरा और सहरसा गांव निवासी गुरजीत ¨सह भी साथ था। मूल रूप से राजासांसी का रहने वाला गुरजीत ¨सह उर्फ लाडा भी नाभा जेल ब्रेक कांड का मास्टर माइंड है। पूछताछ में सामने आया है कि लाडा ने कुछ समय पहले यूपी में सुरजीत ¨सह के नाम से अपना पासपोर्ट बनाया था और एक बार विदेश भी चला गया था। हालांकि वह पंजाब में किसी बड़ी वारदात के बाद दोबारा अपनी पत्नी रमनदीप कौर के साथ विदेश भागने की तैयारी में था। उसी के इशारे पर उत्तर प्रदेश के पीलीभीत इलाके से कुख्यात गोपी घनशामपुरा का भी पासपोर्ट अप्लाई किया जा चुका है। इस बाबत उत्तर प्रदेश पुलिस को भी जानकारी दी गई है। यह भी पता चला है कि इसके बारे में पता चलते ही देश की खुफिया एजेंसियों में हड़कंप मच चुका है। पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि लाडा अपने साथी गोपी घनशापुरा के साथ मिलकर पंजाब में किस जगह पर वारदात को अंजाम देने के बाद विदेश भागने की तैयारी में है।

पंजाब पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि 26 जनवरी-2017 को स्पेशल सेल को ग्रेटर नोएडा में गोपी घनशामपुरा के छिपे होने की सूचना मिली थी। स्पेशल सेल के अधिकारियों ने जब छापामारी की तो गोपी वहां से अपने साथियों के साथ फरार हो चुका था।

गैंगस्टरों का पंजाब और उत्तर प्रदेश में चल रहा बड़ा नेटवर्क

लाडा की पूछताछ में सामने आया है कि गैंगस्टर्स का यूपी और पंजाब में एक बड़ा नेटवर्क चल रहा है। आरोपी दोनों राज्यों में कारोबारियों के अपहरण की योजना बना रहे हैं, ताकि फिरौती वसूल कर किसी बड़ी वारदात को अंजाम दिया जा सके।

उत्तर प्रदेश के आइजी को क्लीनचिट देने की तैयारी

पता चला है कि कांग्रेसी नेता संदीप तिवारी उर्फ ¨पटू तिवारी के गैंगस्टर्स कनेक्शन में गोपी घनशामपुरा को भगाने के मामले में चिह्नित हुए उत्तर प्रदेश पुलिस के एक आइजी स्तर के अधिकारी को उत्तर प्रदेश पुलिस की एक लॉबी सारे मामले में क्लीन चिट देने की तैयारी कर चुकी है। बताया जा रहा है कि आइजी को आने वाले दिनों में ¨पटू के साथ संबंधों को लेकर सारे प्रकरण से बाहर कर दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!