जागरण संवाददाता, अमृतसर : सरकारी मेडिकल कालेज अमृतसर के विकास के लिए पंजाब सरकार ने 16 करोड़ की राशि खर्च करेगी। मेडिकल शिक्षा एवं खोज विभाग के मंत्री ओमप्रकाश सोनी ने मंगलवार को मेडिकल कालेज में इस बात की जानकारी दी। उन्होंने कालेज के प्रिसिपल डा. राजीव देवगण, मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा. केडी सिंह व अधिकारियों के साथ बैठक कर कालेज के विकास के लिए तैयार प्रोजेक्ट की समीक्षा की। सोनी ने कहा कि कालेज के मुख्य द्वार का सुंदरीकरण किया जाएगा। मुख्यद्वार से अंदर तक लैंडस्केपिग व हार्टिकल्चर का काम किया जाएगा। कालेज के पार्क का नवीनीकरण किया जाएगा। इसके अतिरिक्त कालेज में नई लाइटें, फर्श, टाइल्स, फर्नीचर व पेंट किया जाएगा। मेडिकल कालेज व गुरुनानक देव अस्पताल को निजी अस्पतालों से भी बढि़या बनाया जाएगा। मरीजों को हर सुविधा एक ही छत के नीचे प्रदान की जाएंगी।

सोनी ने कहा कि मेडिकल कालेज में स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट के निर्माण का कार्य युद्धस्तर पर जारी है। जल्द ही इसका उद्घाटन किया जाएगा। इंस्टीट्यूट के निर्माण के बाद कैंसर मरीजों को पीजीआई तक नहीं जाना पड़ेगा। यहीं अत्याधुनिक चिकित्सा उपकरणों व योग्य डाक्टर उपलब्ध होंगे।

1864 में लाहौर स्थित मेडिकल स्कूल को 1920 में अमृतसर स्थानांतरित किया गया था। 1943 में इसे मेडिकल कालेज के रूप में तैयार किया गया। इसके बाद मेडिकल कालेज में लगातार नए विभाग बनाए गए। वर्ष 2015 में मेडिकल कालेज की विरासती इमारत की रिपेयर के लिए पंजाब सरकार ने इंडियन नेशनल ट्रस्ट फार आर्ट एंड कल्चरल हेरीटेज से संपर्क किया था। इसके तहत इमारतों के एलिवेशन बदले गए। हालांकि इनका पुरातन स्वरूप बरकरार रखा गया था।

Edited By: Jagran