जागरण संवाददाता, अमृतसर

पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ भारत बंद की कॉल को लेकर कांग्रेस पार्टी ने अमृतसर में पंथक कार्ड खेलते हुए गुरु नगरी को इस बंद से बाहर रखा। श्री गुरु ग्रंथ साहिब के पहले प्रकाश पर्व को मुख्य रखते हुए कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को किए जाने वाले प्रदर्शन पहले ही स्थगित करने का एलान कर दिया था। परंतु वाम पंथी पार्टियों भाकपा, माकपा , भाकपा माले और आरएमपीआइ के कार्यकर्ताओं ने शहर में रोष मार्च और स्कूटर-बाइक रैलियां निकाली। रोष मार्च के दौरान केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतले फूंकते हुए केंद्र सरकार की जन विरोधी नीतियों और पेट्रोल व डीजल के लगातार बढ़ते रेट का जमकर विरोध किया। विरोध के बावजूद शहरवासियो ने बंद को कोई समर्थन नहीं दिया। सभी कारोबार व बाजार रोज की तरह खुले रहे। सरकारी कार्यालयों में सरकारी छुट्टी थी जबकि प्राइवेट कंपनियों के कार्यालय और बैंक भी रोज की तरह खुले रहे। बसें और अन्य वाहन भी चलते रहे।

वाम पार्टियों माकपा, भाकपा और भाकपा माले की ओर से भंडारी पुल पर विशाल प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारी रोष मार्च करते हुए हाल गेट पहुंचे। वहां प्रदर्शनकारी वाम वर्करों ने मोदी सरकार का पुतला फूंक कर सरकार की जन विरोधी व महंगाई को बढ़ाने वाली नीतियों के खिलाफ नारेबाजी की।

प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए वामपंथी नेताओं अमरजीत ¨सह आसल, अमरीक ¨सह , सुच्चा ¨सह अजनाला, लखबीर ¨सह निजामपुरा और मंगल ¨सह ने कहा कि भारत सरकार देश में एक कानून और एक टैक्स का नारा दे रही है। बावजूद इसके पेट्रोल व डीजल पर एक टैक्स नहीं है। इस उत्पादों पर कई टैक्स लगा दिए गए हैं। सरकार इन बढ़ रहे रेटों पर अंकुश लगाने के प्रति कोई भी गंभीरता नही दिखा रही है। बल्कि अपने साम्राज्यवादी आकाओं को खुश करके देश की आम जनता की आर्थिक लूट करने की इजाजत दी जा रही है।

रुपया गिर रहा है, आम वस्तुओं के रेट आसमान पर

वाम नेताओं ने कहा कि देश के अंदर रुपये की कीमत लगातार गिर रही है। आम जीवन में उपयोग होने वाली वस्तुओं के रेट आसमान पर पहुंच रहे हैं। देश के अंदर रोजगार खत्म हो रहे है। सरकार की ओर से महंगाई घटाने की जगह कारपोरेट घरानों की मदद की जा रही है। सांप्रदायिक शक्तियां देश में अपनी गतिविधियों को बढ़ा रही है। अपराध की घटनाएं बढ़ रही हैं। महिलाएं देश के अंदर असुरक्षित महसूस कर रही है। इस दौरान वामपंथी नेताओं विजय कुमार, जीत लाल, नरेंद्र धंज्जल, मोहन लाल, नरेंद्र चमियारी, दस¨वदर कौर , गुरदीप ¨सह बल¨वदर ¨सह , बलकार ¨सह दुधाला, नरेंद्र कौर , जो¨गदर सिह गोपालपुरा, कृपाल ¨सह व एससी सूद आदि ने भी संबोधित किया।

आरएमपीआइ वर्करो ने निकाली स्कूटर रैली, फूंका पुतला

फोटो—— 64

वामपंथी पार्टी आरएमपीआइ की ओर से भारत बंद के आह्वान पर देर शाम शहर में स्कूटर-मोटरसाइकिल रोष रैली निकाली गई। प्रदर्शनकारी वाम वर्कर केंद्र सरकार और मोदी की जन विरोधी व महंगाई को बढ़ाने वाली नीतियों के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। भंडारी पुल पर पहुंच कर प्रदर्शनकारियों ने सरकार के खिलाफ धरना दिया और केंद्र सरकार व मोदी का पुतला फूंका। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए पार्टी नेताओं जगतार सिह कर्मपुरा, बल¨वदर ¨सह छेहरटा, सर्बजीत ¨सह और कंवलजीत कौर ने कहा कि मोदी सरकार सभी फ्रंट पर असफल साबित हुई है। सरकार ने जो वायदे किए थे उनको पूरा नही किया। काला धन वापिस नही लाया गया। काला धन रखने वाले किसी भी आरोपित को गिरफ्तार नहीं किया गया। बढ़ रही मंहगाई पर कंट्रोल नही किया जा रहा है। इस दौरान अजीत सिह , हर¨जदर ¨सह , गुरमीत ¨सह , पल¨वदर ¨सह , किशोर ¨सह , रतन ¨सह , स¨वदर कौर गुमटाला, सु¨रदर कुमार आदि ने भी संबोधित किया।

Posted By: Jagran