जागरण संवाददाता, अमृतसर

निर्देशक इम्तेयाज अली और उनके भाई साजिद अली ने रविवार को विश्व प्रसिद्ध आध्यात्मिक स्थल श्री हरिमंदिर साहिब में माथा टेका। उनके साथ अभिनेता अविनाश तिवारी और तृप्ति डिमरी भी थे।

रॉकस्टार, जब वी मेट, हाइवे और तमाशा जैसी फिल्में बना चुके इम्तेयाज अली व उनके भाई साजिश अली अपनी नई फिल्म लैला-मजनू की सफलता के लिए श्री हरिमंदिर साहिब में अरदास करने पहुंचे थे।

साजिद खान ने कहा कि आध्यात्मिक नगरी में आकर उन्हें बहुत सुकून मिला है। श्री हरिमंदिर साहिब में उन्होंने फिल्म के लिए अरदास की है। यहां आकर सबसे पहले उन्होंने अमृतसर कुल्चे खाए और लस्सी पी। क्योंकि उन्हें यह दोनों बहुत ही पसंद है। वह पहले भी यहां आ चुके है और जब भी आते है लस्सी और कुल्चे जरूर खाते हैं। अमृतसर का लाजवाब स्वाद उन्हें यहां खींच आता है।

अभिनेता अविनाश तिवारी ने कहा कि दरबार साहिब में माथा टेककर उन्हें आत्मिक सुकून मिला है। यह उनकी पहली फिल्म है। वह चाहते हैं कि गुरु साहिब उनकी फिल्म पर अपनी मेहर करें।

लीड रोल कर रही तृप्ति डिमरी ने कहा कि उन्होंने इस अपनी फिल्म के लिए काफी मेहनत की है। वह पहली बार श्री हरिमंदिर साहिब में आई हैं। बहुत शांति और सुकून मिला है।

Posted By: Jagran