-बेअदबी मामले पर शिअद की महिला विंग की नेता बीबी किरणजोत कौर ने सोशल मीडिया पर खोला मोर्चा

---

जागरण संवाददाता, अमृतसर: बेअदबी की घटनाओं व बहिबलकलां गोलीकांड की रिपोर्ट के विधानसभा में पेश होने के बाद शिरोमणि अकाली दल अध्यक्ष सुखबीर बादल व संयोजक प्रकाश सिंह बादल के खिलाफ विरोध बढ़ता जा रहा है। अकाली दल के वरिष्ठ नेता सुखेदव सिंह ढींडसा, एसजीपीसी के पूर्व अध्यक्ष अवतार सिंह मक्कड़ के बाद एसजीपीसी की सदस्य व अकाली दल महिला विंग की वरिष्ठ नेता बीबी किरणजोत कौर ने सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि अकाली दल के मौजूदा नेतृत्व ने पंथक और अकाली दल की ऐतिहासिक परंपराओं को तहस-नहस कर दिया है। बीबी किरणजोत कौर ने कहा कि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिह बादल को अपने पद से त्यागपत्र दे देना चाहिए। अकाली दल को बचाने के लिए इसका नेतृत्व पंथक टकसाली नेताओं के हाथ में दे देना चाहिए। किरणजोत कौर ने अपनी फेसबुक वॉल पर कड़ी टिप्पणी की है। इसके बाद उनकी वॉल पर अकाली दल की राजनीति को लेकर नई बहस शुरू हो गई है। अकाली वर्करों ने भी मौजूदा नेतृत्व के खिलाफ अपनी भड़ास निकालना शुरू कर दी है। मौजूदा नेतृत्व के खिलाफ सिखों में गुस्सा

किरणजोत ने कहा कि अकाली दल अनेक कुर्बानियों के बाद वजूद में आया था। अवतार सिंह मक्कड़ के एक इंटरव्यू का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि अकाली दल का मौजूदा नेतृत्व अकाली तख्त साहिब को अपने हितों के अनुसार चलाता रहा है। इस के चलते सिखों में गुस्सा है। अकाली दल के लिए जो मौजूदा हालात बन गए हैं उसका एक ही हल है। सुखबीर बादल को सारे प्रकरण व पंथक मर्यादाओं को तहस-नहस करने की खुद जिम्मेदारी लेते हुए अकाली दल के अध्यक्ष पद से त्यागपत्र दे देना चाहिए।

Posted By: Jagran