संवाद सहयोगी, अमृतसर

सीनियर मेडिकल अधिकारी पीएचसी थरीयेवाल डॉ. सिमरित कौर ढिल्लों के नेतृत्व में पीएचसी थरीएवाल में चाइल्ड हेल्थ केयर पर आइपीसी का आयोजन किया गया।

सिविल सर्जन कार्यालय अमृतसर से डॉ. भारती धवन और डॉ. विनोद कौंडल विशेष रूप से पहुंचे। डॉ. भारती ने कहा कि बच्चों के स्वास्थ्य पर विशेष जोर देते हुए कहा कि माताओं को बच्चे के जन्म से लेकर छह महीने तक अपना दूध अवश्य पिलाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि बच्चे के विकास के लिए एक वर्ष के बाद मां बच्चे को पौष्टिक आहार जैसे दलिया, सूजी की खीर, खिचड़ी आदि खिलाना शुरू करें। उन्होंने कहा कि आजकल ट्रेंड में है कि जन्म के दौरान मां और बच्चे को अलग कर दिया जाता हे जबकि बच्चा जितना मां के पास रहेगा उतना ही तंदरुस्त रहेगा। डॉ. कौंडल ने बच्चों को पौष्टिक आहार खिलाने पर जोर देते हुए कहा कि फॉस्ट फूड के अपेक्षा बच्चों को पौष्टिक व संतुलित आहार दिया जाए। इस दौरान मेडिकल अधिकारी डॉ. प्रितपाल, डॉ. ललित कुमार, डॉ. भूपिद्र सिंह व अन्य उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!