जागरण संवाददाता, अमृतसर

पंजाब सरकार ने आम जनता को सरकारी कार्यालयों के चक्रव्यू से बाहर निकालने के लिए अपने हर विभाग की साइट बनाई और ऑनलाइन सिस्टम की शुरुआत की, लेकिन आज यही ऑनलाइन सिस्टम जिला प्रशासन के लिए गले की फांस तो आमजनता के लिए परेशानी का सबब चुका है। तहसील में रजिस्ट्री सर्वर की स्पीड इतनी स्लो है कि लैपटॉप पर पंजाब सरकार की साइट खोल कर घंटों इसके सामने बैठने के बाद भी उन्हें अपने दस्तावेज रजिस्टर करने के लिए अपाइंटमेंट नहीं मिल पाती।

बटाला रोड निवासी तेजिदर सिंह ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से तहसील में साइट की स्थिति बहुत ही दयनीय हो चुकी है। सरकार को लोग पैसा देने को तैयार हैं मगर उन्हें अपाइंटमेंट ही नहीं मिल पाती। गर्मी के मौसम में तो तहसील में हालात और भी बुरे हो चुके हैं, लोगो के लिए पीने के पानी की ही व्यवस्था नहीं। पंजाब सरकार को इसका पक्का समाधान निकालना चाहिए, ताकि पैसा सरकारी खजाने में जमा करवाने के लिए खजल-खवार नहीं होना पड़े।

बलदेव सिंह का कहना है कि सरकार सरकारी कार्यालयों में कामकाज की गति में तेजी लाने के लिए नए-एन सिस्टम लांच करती है, मगर अधिकारियों की एफिशिएंसी फिर नहीं बढ़ पा रही। एक तो अपाइंटमेंट नहीं मिल पाती और अगर मिल भी जाती है तो लाइट बंद होने पर तहसील में काम ठप हो जाता है। आज दोपहर 12 से 12.30 के बीच लाइट बंद रही, मगर जेनरेटर शुरू नहीं किया गया।

सुल्तानविड रोड निवासी प्रताप सिंह ने बताया कि उसकी माता शिदो ने 13 साल पहले मुख्तार नामा उसके नाम करवाया था। अब उस मुख्तारनामे को तुड़वा कर रजिस्ट्री अपने नाम पर करवाना चाहता है। भीषण गर्मी में अपनी बुजुर्ग माता शिदो को साथ लेकर तहसील पहुंचा। तहसील परिसर के अंदर गर्मी के चलते उसकी माता की हालत बिगड़ गई। उन्होंने सब-रजिस्ट्रार को माता की हालत बताते हुए जल्द काम करने की अपील की, लेकिन उनकी बारी दो घंटे बाद आई। सब-रजिस्ट्रार ने उनकी माता की तबीयत ठीक नहीं बताकर मुख्तारनामा तोड़ने से मना कर दिया।

एसबीआइ में भी जमा नहीं हुए पैसे, नहीं मिले स्टांप पेपर

जिन लोगों की सोमवार और मंगलवार को रजिस्ट्री है, वे वसीका नवीसों के साथ स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में पैसे जमा करवाने पहुंचे ताकि रजिस्ट्री के लिए स्टाम पेपरों की खरीद कर सकें। मगर एसबीआइ का सर्वर भी आज काफी स्लो रहा और घंटों इंतजार के बाद भी वे लोग पैसे जमा करवाने में सफल नहीं हो सके। करीब 30 से 40 लोग मायूस होकर वापस तहसील में लौट आए।

सॉफ्टवेयर ही खराब, अपग्रेड होना चाहिए सिस्टम : शर्मा

वसीका नवीस एसोसिएशन के जिला प्रधान नरेश शर्मा ने कहा कि सॉफ्टवेयर में ही तकनीकी खराबी है। यह साइट ज्यादा लॉड नहीं उठा पाती। सरकार को चाहिए कि एक्सपर्ट के साथ सलाह कर इस सिस्टम को अपग्रेड करे, क्योंकि इंटरनेट की स्लो स्पीड के चलते लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पंजाब सरकार को लोगों की परेशानी समझना चाहिए। जो काम मैनुअली 3 से 4 मिनट में हो जाता उसे साइट पर ऑनलाइन करने के लिए कई बार तो आधे घंटे से भी ज्यादा का समय लग जाता है।

कोट

शाम 6 से रात 10 बजे तक ले सकते हैं अपाइंटमेंट

पिछले कुछ दिनों से इंटरनेट की स्पीड कम हुई है। इसको देखते हुए अपाइंटमेंट के लिए समय निर्धारित कर दिया गया है। अब लोग शाम 6 से रात 10 बजे तक रजिस्ट्रियों के लिए अपाइंटमेंट ले सकेंगे। ऐसा होने पर सुबह साइट पर अपाइंटमेंट का बर्डन नहीं होगा। रजिस्ट्री या कोई अन्य दस्तावेज को रजिस्ट्र करने में काफी कम समय लगेगा।

-जोगिदरपाल सलवान, सब-रजिस्ट्रार अमृतसर-1 और अमृतसर-2।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!