जागरण संवाददाता, अमृतसर

लुटेरा गिरोह के तीन सदस्यों ने सौ फुटी रोड पर स्थित वाटर प्यूरीफाई करने वाली कंपनी यूरेका फोब्स के कार्यालय में घुसकर वहां की एक महिला कर्मी से उसका मोबाइल झपट लिया। जब तक महिला लुटेरों के पीछे भाग पाती आरोपित फरार हो गए थे। उधर घटना के बारे में पता चलते ही बी डिवीजन थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। इलाके में लगे संस्थानों से सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। एडीसीपी जगजीत ¨सह वालिया ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने दावा किया है कि लुटेरों की पहचान कर उन्हें शीघ्र धर लिया जाएगा।

मजीठा रोड निवासी नरेश कुमार ने बताया कि वह सुल्तान¨वड रोड स्थित सौ फुटी रोड पर यूरेका फोब्स के दफ्तर में काम करते हैं। कार्यालय में रोजाना 10-12 कर्मी रहते हैं। रविवार को छुट्टी के चलते महिला कर्मचारी रमनदीप कौर ही दफ्तर में बैठकर उपभोक्ताओं को टेली का¨लग करती है। रविवार की दोपहर दो बजे वह अपना काम कर रही थी और इस बीच बाइक पर सवार होकर तीन युवक उसके पास पहुंच गए। एक युवक ने रमनदीप कौर से पूछा कि वह यहां पर एक नर्सरी की तलाश कर रहे हैं। उन्हें जानकारी नहीं है। अगर आपको पता है तो सहायता कर दें। रमनदीप ने आरोपितों को बताया कि उसे इलाके में किसी नर्सरी के बारे में पता नहीं है। इसके बाद दो लुटेरे कार्यालय से बाहर चले गए और एक युवक वाटर प्यूरीफाई करने वाले उपकरणों के बारे में जानकारी लेने लगा। दो लुटेरों ने बाहर पार्क की अपनी बाइक स्टार्ट कर ली और एक लुटेरा रमनदीप कौर की टेबल पर रखा उसका मोबाइल लेकर भाग निकला। महिला कर्मी को पहले तो समझ ही नहीं आया उसके साथ क्या हुआ है। जब तक वह समझ पाई तो लुटेरों के पीछे भागी। इतने में तीनों लुटेरे बाइक पर सवार हो कर फरार हो चुके थे।

Posted By: Jagran