संस, अमृतसर: पंजाब के व्यापारी इस समय आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। कोई राहत न देने पर वे परेशानी के आलम में है। व्यापारी वर्ग ने कहा है कि वे अब उस राजनीतिक पार्टी को सपोर्ट करेंगे जो उनके हित के लिए कार्य करेगी। इसके अलावा व्यापारी वर्ग अपनी मांगों के लिए संघर्ष करने पर भी मजबूर होगा। आंदोलन की चेतावनी जिला अमृतसर व्यापार मंडल की सखी पैलेस ग्रीन एवेन्यू में हुई बैठक में व्यापारियों व उद्योगपतियों के प्रतिनिधियों ने दी।

जिला अमृतसर व्यापार मंडल के प्रधान सुरिदर दुग्गल की अध्यक्षता में हुई बैठक में पंजाब प्रदेश व्यापार मंडल के प्रधान प्यारे लाल सेठ, महासचिव समीर जैन, उपाध्यक्ष रंजन अग्रवाल, कोषाध्यक्ष एसके वधवा मुख्य तौर पर शामिल हुए। बैठक में अमृतसर जिले से संबंधित पंजाब से अधिकतर एवं औद्योगिक एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

व्यापारी वर्ग ने कहा कि पंजाब में बिजली की दर को पांच रुपये किया जाए। बिजली के फिक्स्ड चार्जेस अप्रैल 2020 से सितंबर 2020 तक के हटाए जाएं। वन टाइम सेटलमेंट स्कीम के अंतर्गत वर्ष 2014 के बाद हुए असेसमेंट केसों को भी निपटाने का विकल्प दिया जाए। प्रोफेशनल टैक्स माफ किया जाए। पेट्रोल एवं डीजल पर वैट एवं एक्साइज की दरों को कम किया जाए। औद्योगिक हब बनाए जाएं। पंजाब ट्रेडर्स एवं उद्योग बोर्ड में व्यापार मंडल के सदस्य भी शामिल किए जाएं। मंडल के प्रदेश महामंत्री समीर जैन ने कहा कि कारोबारी देश के आर्थिक सिपाही है। व्यापारियों की मांगों को हल करना चाहिए। प्रदेश उपाध्यक्ष रंजन अग्रवाल ने बताया कि सरकार ने अगर कारोबारियों की समस्याओं का जल्द समाधान ना किया तो मजबूर होकर सड़कों पर संघर्ष करने लग पड़ेंगे।

इस अवसर पर राकेश ठुकराल, रवि अरोड़ा, सुरिदर जैन, बलवीर भसीन, विकास, मोती भाटिया, अमित कोहली, कमल डालमिया, शाम अग्रवाल, वजीर चंद, कपिल बहल, बलदेव सिंह, राजीव बाबा, राकेश खन्ना, गौरव भल्ला, संजीव भाटिया, अनूप बिट्टा, संजीव जैन, राजीव कपूर, जगदीश चंद्र, दीपक राय मेहरा, राजीव अनेजा, अश्विनी शर्मा, प्रिस नरूला, लाभ सिंह, मधुकर तलवार, राजकुमार, संदीप सेठी, रंजीत नागपाल, रूपेश गोयंका, देव कुमार, सुरेंद्र कुमार, रमेश कपूर, राजेंद्र जैन, हरविदर अरोड़ा, सुनील चोपड़ा, पीयूष कपूर, अशोक कुमार, राजू किग मौजूद थे।

Edited By: Jagran