नवीन राजपूत, अमृतसर : तरनतारन के पंडोरी गोला में जहरीली शराब तैयार करने वाला शराब तस्कर सतनाम सिंह अमृतसर देहाती पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ है। वह अधिकारियों के सामने बार-बार बयान बदल रहा है। आरोपित के खिलाफ कितने मामले दर्ज हैं और वह कितनी देर से परिवार के साथ देसी शराब के धंधे में लिप्त है। इसकी स्पष्ट जानकारी पुलिस के हाथ अभी तक नहीं लगी है। इसका कारण यह है कि आरोपित इतना शातिर है कि वह अधिकारियों को गुमराह करने वाले बयान दे रहा है। अब अमृतसर देहाती पुलिस ने तरनतारन के सदर थाने से आरोपित का रिकार्ड मंगवाया है। थाना प्रभारी मंजीत सिंह ने बताया कि जहरीली शराब मामले में व्यस्तता के कारण अभी तक सतनाम की इंटेरोगेशन नहीं हो पाई है।

पुलिस के मुताबिक आरोपित सतनाम सिंह बीते 24 घंटे में पुलिस को यही बता रहा है कि उसके खिलाफ शराब तस्करी या फिर एनडीपीएस एक्ट का कोई मामला दर्ज नहीं है। कभी वह खुद पर तीन मामले दर्ज होने की बात करता है। पुलिस को आशंका है कि आरोपित काफी सालों से अपने पिता हरजीत सिंह और भाई शमशेर सिंह उर्फ शेरा के साथ शराब बनाने का कारोबार कर रहा है। आरोपित ने पूछताछ में बताया कि शमसेर सिंह पर एक और पिता पर शराब तस्करी के तीन मामले दर्ज हैं। एफआइआर के बाद जमानत पर छूटते ही वह तीनों फिर शराब के धंधे में जुट जाते हैं। थाना प्रभारी मंजीत सिंह ने बताया शमशेर सिंह और हरजीत सिंह की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है।

पुलिस जांच में सामने आया है कि पंडोरी गोला गांव के पकड़े गए सतनाम सिंह ने कुछ समय पहले मोगा के अवतार सिंह और रविदर सिंह से स्पिरिट के तीन ड्रम (छह सौ लीटर) खरीदी थी। उसी में मिलावट करके उसने शराब तैयार की थी। इसे तरनतारन, तरसिका और बटाला में सप्लाई किया गया था। वही शराब पीने से 122 लोगों की मौत हो चुकी है। रविदर सिंह और अवतार सिंह मोगा के ही अश्वनी कुमार के मार्फत लुधियाना की पेंट फैक्ट्री के मालिक राजेश जोशी से स्पिरिट खरीदकर देसी शराब निकालने का कारोबार कर रहे थे। मंगलवार को तरसिका थाने की पुलिस ने गैर इरादतन हत्या और शराब तस्करी के मामले में राजेश जोशी, मोगा के अश्वनी कुमार, अवतार सिंह, रविरदर सिंह, तरनतारन निवासी सतनाम सिंह को बाबा बकाला कोर्ट में पेश किया। जहां चारों को सात अगस्त तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!