जागरण संवाददाता, अमृतसर : पंजाब सरकार सेल्फ हेल्प ग्रुप के जरिए जरूरतमंद महिलाओं का जीवन स्तर उंचा उठाने के लिए वचनबद्ध है। इसके लिए सभी जिला उपायुक्तों व अतिरिक्त उपायुक्तों को निर्देश जारी किए गए हैं कि वे महिलाओं को सरकार की योजनाओं के साथ जोड़ने का काम करें। ये बातें पंजाब के मुख्य सचिव करण अवतार ¨सह बराड़ ने पीएचडी चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा आयोजित किए जा रहे पाइटेक्स-2018 का दौरा करने के दौरान महिलाओं द्वारा लगाए स्टॉल पर काम कर रही महिलाओं के साथ बातचीत में कही।

उन्होंने पंजाब सरकार का टूरिज्म, मार्कफेड, मिल्कफैड व पेडा समेत कई स्टॉलों का दौरा करके वहां मौजूद कामकाजी महिलाओं का उत्साह बढ़ाया। उन्होंने वहां मौजूद फुलकारी सेल्फ हेल्प ग्रुप चमकौर साहिब की जसपाल कौर व गुरमीत कौर से बातचीत कर उनके कामकाज बाबत विस्तार से जानकारी हासिल की। इसके बाद बराड़ ने गांव तनसिक्का के प्रगतिशील किसान सुलतान ¨सह द्वारा लगाए आग्रेनिक हल्दी व ऐलोवीरा के स्टाल में विशेष दिलचस्पी दिखाई।

उन्होंने किसानों को पारंपरिक खेती को छोड़कर वैकल्पिक खेती अपनाने की सलाह देते हुए उन्हें इसके लिए प्रेरित भी किया। जिला उपायुक्त कमलदीप ¨सह संघा ने बताया कि जिले में महिलाओं के सेल्फ हेल्प ग्रुपों के माध्यम से सैकड़ों महिलाएं अपने पांवों पर खुद खड़ी होकर अपने परिवारों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहीं हैं। इस अवसर पर पीएचडी चैंबर्स ऑफ कामर्स के पंजाब चैप्टर के चेयरमैन आरएस सचदेवा, क्षेत्रीय निदेशक मधु पिल्ले व स्थानीय संयोजक जयदीप ¨सह के अलावा कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Posted By: Jagran