जागरण संवाददाता, अमृतसर। जेल से जमानत पर छूटे कुख्यात गैंगस्टर रणदीप सिंह उर्फ राणा कंधोवालिया सहित तीन लोगों पर मंगलवार की रात ताबड़तोड़ गोलियां चलाई गईं। घटना को कार में सवार चार युवकों ने अंजाम दिया है। दो आरोपित मजीठा रोड स्थित केडी अस्पताल की दूसरी मंजिल पर राणा और उसके साथी तेजवीर सिंह के पीछे पहुंच गए और फायरिंग शुरू कर दी। वारदात अंजाम देने के बाद चारों आरोपित अपनी सफेद रंग की क्रेटा में सवार होकर फरार हो गए। 

उधर घटना के बारे में पता चलते ही पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल, डीसीपी मुखविंदर सिंह भुल्लर, एडीसीपी संदीप मौके पर पहुंचे। आशंका जताई जा रही है कि तिहाड़ जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया के गुर्गों ने यह हमला किया है। जग्गू का पिछले कई सालों से राणा के साथ विवाद चल रहा था।  

जानकारी के मुताबिक अटारी के पास रहने वाला रणदीप सिंह उर्फ राणा कंधोंवालिया अपने दोस्त अकाली दल बादल के स्टूडेंट विंग के प्रधान तेजवीर सिंह के साथ अपने किसी रिश्तेदार का हाल पूछने केडी अस्पताल पहुंचा थाl हरियाणा की महिला रिश्तेदार पिछले 1 सप्ताह से अस्पताल में अपना इलाज करवा रही थीl जांच में सामने आया कि राणा 2 दिन पहले भी उसका हाल जानने अस्पताल आया थाl मंगलवार को जैसे ही अस्पताल में वह दाखिल हुआ तो क्रेटा कार में सवार चार युवक भी उसके पीछे आकर रुक गएl तेजवीर और राणा सीढ़ियों के रास्ते अपनी रिश्तेदार के पास पहुंच रहे थेl

ठीक उसी समय दो हमलावर भी उनका पीछा कर रहे थेl दूसरी मंजिल पर पहुंचते ही दोनों आरोपितों ने राणा कंधों वालिया और तेजवीर सिंह पर ताबड़तोड़ फायरिंग करनी शुरू कर दीl मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि राणा के शरीर में पांच गोलियां और तेजवीर को 3 गोलियां लगीl मौके पर मौजूद जब अस्पताल के गार्ड ने शोर मचाने का प्रयास किया तो हमलावरों ने एक गोली उसे भी मार दी। बाद में सभी क्रेटा कार में सवार होकर फरार हो गए।

अमृतसर के मजीठा रोड पर केडी अस्पताल में हुए घटना के बारे में जानकारी देते हुए पुलिस कमिश्नर डॉ सुखचैन सिंह गिल।

दिसंबर 2019 में हुई थी जमानत

कुख्यात गैंगस्टर रणदीप सिंह के खिलाफ मारपीट, गोलियां चलाने और गुंडागर्दी के दर्जन पर मामले दर्ज हैंl आरोपित काफी समय तक जेल में भी रहाl दिसंबर 2019 को कोर्ट ने राणा को जमानत पर रिहा कर दिया थाl बताया जा रहा है कि परिवार राणा को हमेशा सुधारने की नसीहत दे रहा था लेकिन कुख्यात गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया उसे जेल से ही मार देने की लगातार धमकियां दे रहा था। परिवार ने 30 अक्टूबर, 2020 को राणा की शादी कर दी थीl राणा और उसके साथियों ने अपनी शादी के समारोह पर जमकर फायरिंग की थी। इस बाबत भी पुराना उसके साथियों पर गोलियां चलाने का मामला दर्ज किया गया थाl इस दौरान फरवरी 2020 में कोर्ट से पेशी भुगतने के बाद घर लौट रहे राणा पर जग्गू भगवानपुरिया ने गोलियां चला कर मार देने की कोशिश की थी। 

सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही पुलिस

वारदात के बाद पुलिस कमिश्नर डॉ सुखचैन सिंह गिल ने अस्पताल और उसके आसपास लगे सारे सीसीटीवी कैमरों को खंगालने के आदेश दिए हैं। मामले की जांच करवाई जा रही हैl सीपी ने दावा किया है कि हत्यारोपित का जल्द सुराग लगा लिया जाएगाl

 

Edited By: Pankaj Dwivedi