नितिन धीमान, अमृतसर

मोबाइल पर रांग नंबर मिलने पर अक्सर लोग रांग नंबर कहकर काल डिस्क्नेक्ट कर देते हैं, पर छेहरटा की एक युवती रांग नंबर डायल करने वाले को दिल ही दे बैठी। बातों का सिलसिला शुरू हो गया। दोनों में प्यार भी हो गया। एक-दूसरे से मिलने लगे। पांच साल का प्यार चलने के बाद युवती ने अपने स्वजनों को प्रेम विवाह करवाने की इच्छा जाहिर कर दी। स्वजनों ने भी इस पर सहमति की मुहर लगा दी। शादी का मंडप भी सज गया। हाथों में चूड़ा पहनकर यह युवती मंडप तक पहुंची और फिर अपने साजन का बेसब्री से इंतजार करने लगी। पर साजन जी आए ही नहीं। बस एक फोन आया कि मैं नहीं आऊंगा। इसके बाद फोन भी बंद हो गया।

दरअसल, पांच साल पूर्व इस युवती के मोबाइल पर एक युवक ने फोन किया। उसने किसी व्यक्ति के विषय में पूछा। युवती ने कहा कि आपने रांग नंबर लगा दिया है। उस वक्त तो बात खत्म हो गई, पर अगले दिन युवक ने पुन: फोन कर युवती से बातचीत की। बातों का सिलसिला चल निकला। यह युवक अमृतसर का ही रहने वाला है। फोन पर युवक ने प्यार का इजहार कर दिया। युवती ने बिना सोचे समझे और इस युवक को देखे बगैर कबूल है कह दिया। कुछ महीनों फोन पर बातचीत के बाद दोनों इक-दूजे से मिलने लगे। शारीरिक संबंध भी स्थापित हुए। युवती के अनुसार उसने युवक को शादी करने को कहा, तो वह कुछ महीने रुकने को कहता रहा। मैंने उस पर शादी का दबाव बनाया तो वह मान गया। मेरे परिजनों ने शादी की तैयारियां पूरी कर लीं। दहेज का सामान भी मंगवा लिया। निर्धारित समय मैं दुल्हन के लिबास में सज-धज कर गुरुद्वारा साहिब पहुंच गई। युवक को फोन किया। उसने कुछ देर में आने की बात कही, लेकिन दो घंटे तक नहीं आया। दूसरी बार फोन किया तो उसने साफ कह दिया कि वह नहीं आएगा। युवती ने महिला मंडल पुलिस में दी शिकायत

युवती के अनुसार इस युवक ने मेरे प्यार को मजाक बना दिया। उसके खिलाफ कार्रवाई के लिए महिला मंडल पुलिस में शिकायत की है। महिला मंडल ने मामले की रिपोर्ट बनाकर पुलिस कमिश्नर कार्यालय भेजी है। डीसीपी जगमोहन सिंह ने कहा कि अभी मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद योग्य कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!