जेएनएन, अजनाला (अमृतसर)। मजीठा रोड स्थित रिषी विहार निवासी अमरपाल सिंह (47) की उसके ही पिता व परिवार के अन्य सदस्यों ने मिलकर हत्या कर दी। इतना ही नहीं उसकी पत्नी को बताए बिना उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। पत्नी का आरोप है कि जमीन के लालच में उसके पति की हत्या की गई है।

पुलिस ने अमरपाल के पिता मनजिंदर सिंह निवासी गांव विछोआ, मां मनबीर कौर, भाई हरकरण सिंह के अलावा कंवल कौर और साहिबजीत सिंह के खिलाफ हत्या, शव को खुर्द-बुर्द करने और गबन के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर अवतार सिंह ने बताया कि आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है।

गुरपिंदर कौर ने झंडेर थाने की पुलिस को बताया कि उसकी शादी 2002 में विछोआ गांव निवासी अमरपाल सिंह के साथ हुई थी। वह अपने पति और दो बेटियों के साथ पिछले कुछ साल से मजीठा रोड स्थित रिषी विहार इलाके में रह रही है। उनके ससुराल परिवार के पास काफी जमीन है। पति के हिस्से में भी काफी जमीन आती थी, जिसे उसका ससुराल परिवार हड़पना चाहता था। ससुर मनजिंदर पाल सिंह ने उसके पति की जमीन भी परिवार के अन्य सदस्यों के नाम पर किसी तरह कर कर दी। जब इसका पता चला तो कुछ दिन पहले उसके पति ने अजनाला स्थित तहसील से रिकार्ड निकलवाया।

रिकार्ड देख पता चला कि उसका परिवार ही उसके साथ धोखाधड़ी कर रहा है। इसके बाद वह गांव झंडेर चले गए। दो नवंबर को उसे गांव से किसी व्यक्ति ने फोन कर बताया कि उनके ससुरालियों ने जमीन को लेकर झगड़ा कर रहे उनके पति अमरपाल की पीट-पीट कर हत्या कर दी है। वह उसी वक्त किसी तरह से गांव पहुंची। उसके गांव पहुंचने से पहले ही ससुराल वालों ने उसके पति का अंतिम संस्कार तक कर डाला। उसे कोई जानकारी तक नहीं दी। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!