जागरण संवाददाता, अमृतसर : कोरोना लॉकडाउन के बाद रेलवे ने भले ही यात्रियों के लिए कुछ स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। जिसके तहत अमृतसर से रोजाना दोपहर शहीद एक्सप्रेस रवाना की जाती है। भले ही फिलहाल काम लगभग बंद है। मगर स्टेशन से चलने वाली ट्रेनों को कर्मचारी ठीक से साफ भी नहीं करते है। इन दिनों में अभी यात्रियों की संख्या भी कम है। लेकिन रेलवे कर्मचारी अपनी डयूटी के प्रति बिल्कुल भी गंभीर नहीं है। जिसका नतीजा है कि ट्रेन की सारी सीटे रोजाना गंदी जा रही है। हालांकि यात्री भी इस संबंधी कई बार शिकायत कर चुके है। मगर यात्रियों की शिकायत को आया-जाया कर दिया जाता है।

रोजाना मात्र छह ट्रेनें ही अमृतसर स्टेशन से रवाना होती है। शहीद एक्सप्रेस रोजाना दोपहर 11.55 को रवाना की जाती है। ट्रेन की सफाई वॉशिंग लाइन में होनी होती है। एक ट्रेन को साफ करने के लिए चार घंटे का समय चाहिए होता है। इसके बावजूद कर्मचारी अपनी डयूटी ठीक से निभाने को तैयार नहीं है। हर रोज ही गंदगी से भरी ट्रेन भेज दी जाती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!