रविंदर कक्कड़, तरनतारन : सीमावर्ती कस्बा खेमकरन में सिख रिफरेंडम 2020 का प्रचार जोरों पर चल रहा है। गत रात को कुछ लोगों ने विभिन्न कस्बों और गांवों की दीवारों पर खालिस्तान के पक्ष में नारे लिख दिए।

कस्बा खेमकरन के विभिन्न बाजारों में काले रंग के पेंट से 2020 खालिस्तान और रिफरेंडम 2020 लिखे गए थे। कुछ लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। कस्बा घरियाला की दीवारों पर भी कुछ ऐसे ही लिखे नारे देखने को मिले। कुछ दुकानदारों ने पुलिस को खबर दिए बिना ही इन नारों पर कालिख पोत कर मिटाने की कोशिश की। जबकि कुछ लोगों ने पुलिस को शिकायत दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने इसे शरारती लोगों की साजिश करार देते मामले की जांच करने का भरोसा दिया। शिवसेना बाल ठाकरे के प्रदेश उपाध्यक्ष अश्विनी कुमार कुक्कू, जिला अध्यक्ष हरजीत सिंह हीरा, शहरी अध्यक्ष अवनजीत बेदी, स्वतंत्र कुमार भनोट, तेजिंदरपाल टींडा ने कहा कि खालिस्तान के नाम पर पंजाब के लोग पहले ही संताप भोग चुके है अब कुछ शरारती लोग माहौल को खराब करने लिए गलत प्रचार कर रहे है। ऐसे लोगों खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। एसएसपी दर्शन सिंह मान ने कहा कि दीवारों पर खालिस्तान के लेखन लिखने वाले शरारती लोगों का पता लगाया जा रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!