संवाद सहयोगी, अमृतसर

शिक्षा विभाग ने जिला सहायक शिक्षा खेल अधिकारी बल¨वदर ¨सह को चार्जशीट कर दिया है। उन पर आरोप है कि उन्होंने अंतर जिला खेल 2017-18 के लिए जिला योग टीम को मोहाली में आयोजित प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए नहीं भेजा था। इस पर एईओ बल¨वदर ¨सह ने आरोप लगाया था कि उनके पास धनराशि का अभाव था, जिस कारण वह टीम को भेजने के लिए असमर्थ थे।

उल्लेखनीय है कि तत्कालीन डीईओ सेकेंडरी सुनीता किरण पर एईओ बल¨वदर ¨सह ने खेलों के लिए जारी राशि उन्हें रिलीज नही की थी । उस समय तकरीबन 6.50 लाख पें¨डग थी। बल¨वदर ¨सह व सुनीता किरण के विवाद की गूंज मंत्री ओपी सोनी के दरबार में भी गूंजी थी।

उधर, एईओ बल¨वदर ¨सह ने कहा कि उन्हें इस बाबत कोई भी पत्र नहीं मिला है। इसलिए इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगा। वह पत्र देख कर ही कुछ कह पाएंगे।

डिप्टी डीईओ सेकेंडरी राजेश कुमार ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली है कि एईओ को अंडर-8 नियम में नोटिस जारी हो गया है। ये था मामला

शिक्षा विभाग की ओर से जिला अमृतसर के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की दिसंबर में अलग अलग खेलों का आयोजन किया जाता है। खेल खेलने के लिए विद्यार्थियड्डो की ओर से लुधियाना, मोहाली, गुरदासपुर, होशियारपुर, ब¨ठडा आदि जिलों में अध्यापकों की अगवाई में बनाई कमेटी के साथ गए थे। सहायक खेल अधिकारी बल¨वदर ¨सह ने उक्त खेलों के लिए साल 2017 जून जुलाई में डीईओ सेकेंडरी से बजट की पहले मांग की थी पर पहले बजट क्या मिलना था, खेलों के आयोजन हुए आठ माह बीत गए है। तत्कालीन डीईओ द्वारा बजट की फाइलों पर अधिकारी के हस्ताक्षर नहीं हुए थे। अभी भी साढे चार लाख रुपये की राशि की देनदारी है। इस राशि को जिला शिक्षाविभाग ने एईओ को अदा करना है।

Posted By: Jagran