अमृतसर, [नितिन धीमान]। गुरु नगरी अमृतसर से माया नगरी मुंबई का सफर तय करने वाली भारती सिंह ने अपने जीवन के बारे में बड़ा खुलासा कर सनसनी मचा दी है। भारती ने कहा है कि मां उनको जन्‍म नहीं देना चाहती थीं। उन्‍होंने कहा कि गरीबी के कारण वह कोख में थीं तो मां गर्भपात करना चाहती थीं। कॉमेडी के क्षेत्र में अमिट छाप छोड़ने वाली और अपनी चुलबुली बातों व अदाओं से लोगों का मनोरंजन करने वाली भारती की जिंदगी बेहद संघर्षमयी रही है। दो साल की उम्र में पिता का साया सिर से उठ गया, फिर मां ने बड़ी जद्दोजहद कर भारती का लालन-पालन किया।

टॉक शो में कॉमेडियन भारती  ने किया खुलासा, गरीबी के चलते मां कोख में ही मार देना चाहती थी

एक टॉक शो में भारती ने कहा, जब मैं गर्भ में थी, तो मेरी मां मुझे अबॉर्ट करना चाहती थी। घर की आर्थिक स्थिति ठीक न होने की वजह से वह ऐसा सोचने को मजूबर हो गई थीं। भारती सिंह के इस खुलासे के बाद उनके प्रशंसक व मनोरंजन के क्षेत्र से जुड़े लोग स्तब्ध हैं। अमृतसर में भारती के परिवार के पड़ोसियों को आज भी उनकी मां का संघर्ष याद है। उनका कहना है कि भारती के पिता के निधन के बाद उनकी मां कमला सिंह ने हिम्‍मत नहीं हारी और इसकी का फल है भारती की आज की शानदार कामयाबी।

भारती ने लल्ली के किरदार में लोगों को खूब हंसाया है। रानी का बाग स्थित भारती के घर में इस वक्त कोई नहीं रहता। मां कमला सिंह भी भारती के साथ मुंबई में रह रही हैं। अमृतसर में उसके घर के पास रहनेवाले लोग बचपन में ही भारती की हास्‍यकला के मुरीद हो गए थे। कॉमेडी शो के साथ-साथ भारती ने कई फिल्मों में अपनी अभिनय क्षमता का लोहा मनवाया है।

यह भी पढ़ें: हरभजन को है बेस्ट ऑफर का इंतजार, IPL के बाद अब नई पारी शुरू करने की तैयारी में

भारती सिंह को नजदीक से जानने वाले पंजाब नाट्यशाला के संस्थापक जतिंदर बराड़ ने कहा कि भारती पर हमें नाज है। उन्होंने नाट्यशाला से ही थियेटर का सफर शुरू किया था। टॉक शो में उन्होंने उल्लेख किया है कि उनकी मां उन्हें अबॉर्ट करना चाहती थी। यदि सचमुच ऐसा होता, तो आज देश को एक उम्दा कॉमेडियन नहीं मिल पाता।

आर्ट गैलरी के महासचिव डॉ. अरविंदर सिंह चमक कहते हैं, 'मुझे मालूम है कि भारती सिंह की मां ने किन परिस्थितियों में उन्‍हें पाला है। घर के हालात ठीक न होने के कारण उसकी मां अबॉर्ट करवाना चाहती थी। हमारे समाज में गरीब व मध्यमवर्गीय परिवारों में बेटी पैदा होने पर चिंता सताती है कि यह उन पर बोझ बनेगी। भारती को देखकर यह प्रेरणा मिलती है कि बेटियां बोझ नहीं हाेतीं, वे बोझ हल्का करती हैं।'

विरसा विहार सोसाइटी के प्रधान केवल धालीवाल ने कहा, मैं समझता हूं कि भारती ने टॉक शो में जो भी कहा है, वह समाज को प्रेरणा देगा। भारती ने उन लोगों को सीख दी है, जो बेटियों को कोख में मरवा देते हैं। समाज को बेटियों को जन्म लेने से वंचित करने का अधिकार नहीं है। भारती की तरह पैदा होने वाली हर बेटी अपने माता-पिता का नाम रोशन कर सकती है। भारती ने अपनी मां के आंचल में खुशियां भरी हैं।

मुंबई में भारती के साथ रहती हैं मां कमला सिंह

अमृतसर के रानी का बाग क्षेत्र में भारती सिंह की आलीशान कोठी है। मुंबई में बंगला भी है। अब भारती अपनी मां कमला सिंह को भी मुंबई ले गईं। कभी इस परिवार के लिए दो कमरों का मकान भी एक सपना था। अमृतसर के कोट खालसा में छोटे से मकान में रहकर संघर्षमयी जीवन को जीना इस परिवार ने सीख लिया था, लेकिन भारती की किस्मत का सितारा एकदम चमका।

द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज शो में अपनी दमदार कॉमेडी से भारती सिंह को सफलता की राह मिली और फिर वे आगे बढ़ती चली गईं। अपनी कामयाबी से भारती ने साबित किया कि विषम परिस्थितियों में भी इंसान शीर्ष स्थान प्राप्त कर सकता है।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!