जागरण संवाददाता, अमृतसर

नोटबंदी के दो साल पूरे होने पर कांग्रेसी नेताओं ने जिला कांग्रेस शहरी के प्रधान जुगल किशोर शर्मा की अध्यक्षता में डिप्टी कमिश्नर कमलदीप ¨सह संघा को ज्ञापन सौंप अपना विरोध दर्ज करवाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम दिए ज्ञापन में कांग्रेसियों ने नोटबंदी को फ्लाप करार देते हुए कहा कि इससे देश भर में लाखों लोग जहां कारोबारी तौर पर परेशान हुए, वहीं राष्ट्र की अर्थव्यवस्था ही डांवाडोल हुई है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने दावा किया था कि नोटबंदी से जाली करंसी बाहर आएगी, जबकि देश में प्रचलित 15.44 लाख करोड़ में से 15.31 लाख करोड़ की करंसी बैंकों में वापस आई। जीडीपी के करीब दो प्रतिशत नीचे आने से लाखों नौकरियां चली गई। लोग बेरोजगार हो गए। केंद्र सरकार के तुगलकी फरमान के चलते सैकड़ों लोग अपनी जान गंवा बैठे। लोगों को अपने ही पैसों को बैंक से लेने के लिए कई दिनों तक बैंकों के बाहर लाइनों में लगना पड़ा।

उन्होंने ज्ञापन में मोदी से आग्रह किया कि वे नोटबंदी के फैसले पर देश से माफी मांगे और बताए उससे क्या फायदा हुआ। जब बैंकों में 99.3 प्रतिशत करंसी वापस आ गई तो बताएं कि काला धन कहां है। उन महिलाओं के प्रति तुम्हारा क्या जवाब है, जिन्होंने अपनी ¨जदगी भर की बचत को नोटबंदी के दौरान गंवाना पड़ा। देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बेतहाशा इजाफा किसी से छुपा नहीं है।

उन्होंने कहा कि आज देश में बैंकों में लगातार एनपीए बढ़ रहा है। डालर के मुकाबले रुपया लगातार गिर रहा है। लगातार मुद्रास्फीति उछाल मार रही है। सरकार हर मोर्चे पर फेल साबित हुए है, जबकि देश का नौजवान, व्यापारी, उद्योगपति त्राहि-त्राहि कर रहा है। शर्मा ने कहा कि मोदी की तानाशाही नीतियों के चलते देश बर्बादी की ओर बढ़ रहा है। देश की जनता ने साढे़ चार साल खासा संताप भोगा है, आने वाले लोकसभा चुनाव में लोग मोदी सरकार को चलता कर कांग्रेस को फिर से सत्ता में लाएंगे।

इस मौके पर जिला कांग्रेस देहाती के प्रधान भगवंतपाल ¨सह सच्चर, विधायक इंद्रबीर ¨सह बुलारिया, पूर्व विधायक स¨वदर ¨सह कत्थूनंगल, अश्वनी पप्पू, लाली मजीठिया, पंजाब महिला कांग्रेस की प्रधान ममता दत्ता, जिला महिला कांग्रेस की प्रधान रुपाली बतरा, पार्षद विकास सोनी, समीर दत्ता सोनू, प्रदीप शर्मा, मोती भाटिया, महेश खन्ना, संदीप ¨रका, प्रमोद बबला, हरिदेव शर्मा, राजेश मदान, राणा पवन कुमार, चमन लाल, अश्वनी तुली, सुरेंद्र केवलानी, जगदीश शर्मा, रामलाल शर्मा, पर¨मदर तुंग, अश्वनी तुली आदि हाजिर थे।

Posted By: Jagran