अमृतसर, [वेब डेस्क]। आम आदमी पार्टी के नेता आशीष खेतान के खिलाफ सिखाें की धार्मिक भावनाएं आहत करने और भड़काने के आरोप में पुलिस में मामला दर्ज कराया गया है। उनके खिलाफ अमृतसर के सिविल लाइन थाने में एआइएसएसएफ की आेर से मामला दर्ज कराया गया है। खेतान पर अारोप लगाया गया है कि उन्होंने आप के चुनावी घोषणा पत्र की श्री गुरुग्रंथ साहिब से तुलना की थी। एडीसीपी क्राइम लखबीर सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। इसके साथ ही अकाली दल (यूथ) ने भी खेतान के खिलाफ अदालत में मानहानि का केस दायर किया है। दूसरी ओर, आशीष खेतान ने अपनी टिप्पणी अौर पूरे मामले पर सार्वजनिक माफी मांगी है।

आशीष खेतान ने अपनी टिप्पणी के लिए मांगी सार्वजनिक माफी

इसकेे साथ घोषणा पत्र के मुख्य पृष्ठ पर श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर पर अरविंद केजरीवाल और झाड़ू की फोटो लगा कर सिखों का अपमान करने का भी आरोप लगाया गया है। एआइएसएसएफ (ऑल इंडिया सिख स्टूडेंट फेडरेशन) के अध्यक्ष करनैल सिंह पीर मोहम्मद ने दर्ज कराया है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है और इसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

यूथ अकाली दल ने भी अदालत में दायर किया मानहानि का केस

उधर, शिरोमणि अकाली दल (यूथ) के देहाती प्रेस सचिव चरणजीत सिंह धालीवाल ने भी अाशीष खेतान के विरुद्ध स्थानीय चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की अदालत में मानहानि का केस दायर किया है। याचिका में कहा है कि आशीष खेतान ने यूथ घोषणा पत्र की तुलना श्री गुरु ग्रंथ साहिब से कर अपराध किया है। इसलिए उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। अदालत में इस मामले की सुनवाई बुधवार को होनी थी, लेकिन अवकाश होने के कारण इस मामले की सुनवाई 11 जुलाई को होगी।

करनैल सिंह पीर मोहम्मद का कहना है कि दिल्ली के सीएम व आप आदमी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की 3 जुलाई की रंजीत एवेन्यू की ग्राउंड में रैली में आप नेता आशीष खेतान ने आप यूथ मैनिफेस्टो की तुलना श्री गुरु ग्रंथ साहिब और अन्य धार्मिक ग्रंथों से करके लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। पीर मोहम्मद ने आरोप लगाया कि यूथ मैनिफेस्टो पर श्री दरबार साहिब की फोटो लगी हुई थी, जिस पर झाड़ू का निशान बना हुआ था। यह भी लोगों आस्था के साथ खिलवाड़ है।

उन्होंने कहा कि यूथ मेनिफेस्टो की तुलना धार्मिक ग्र्रंथों से करना सरासर गलत है, क्योंकि ग्रंथ पवित्र हैैं, जबकि चुनाव के समय नेता कई झूठे वादे भी कर देते हैैं।

यह कहा था खेतान ने

अाशीष खेतान ने अमृतसर में पिछले दिनों आप का युवाओं के लिए घोषणापत्र जारी किए जाने के मौके पर आम इसकी तुलना श्री गुरुग्रंथ साहिब से की थी। आशीष खेतान ने कहा था, ‘आम आदमी पार्टी के लिए यह घोषणापत्र बाइबिल भी है, गीता भी है और गुरुग्रंथ साहिब भी।’

पढ़ें : केजरीवाल अब श्री गुरुग्रंथ साहिब व श्री हरिमंदिर के अपमान में घिरे

आप के युवाओं के लिए घोषणा पत्र की तुलना श्री गुरुग्रंथ साहिब से करने व पार्टी के घोषणा पत्र पर श्री हरिमंदिर साहिब जी की तस्वीर पर अरविंद केजरीवाल के झाड़ू के साथ फोटो लगाने पर कई दिनों से विवाद जारी है। एसजीपीसी (शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी) ने भी मंगलवार को इस पर कड़ा एतराज जताया था और इसे सिखों का अपमान बताया।

जत्थेदार मक्कड़ ने कहा, श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर पर केजरीवाल व झाडू़ की फोटो घिनौनी हरकत

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने कहा है कि आम आदमी पार्टी के घोषणा पत्र की तुलना शबद गुरु श्री गुरु ग्रंथ साहिब से करना व श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर पर केजरीवाल द्वारा झाड़ू के साथ अपनी तस्वीर प्रकाशित करना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

पढ़ें : पंजाब में केजरीवाल का विरोध, गो बैक के लगे नारे

एसजीपीसी के प्रधान जत्थेदार अवतार सिंह मक्कड़ ने कहा कि अरविंद केजरीवाल व आशीष खेतान को सिख कौम से माफी मांगनी चाहिए। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी जागत जोति शबद गुरु हैं, जिनकी तुलना आशीष खेतान ने अपने राजनीतिक हितों के लिए एक मामूली घोषणा पत्र से कर दी। इसके लिए सिख कौम कदापि माफ नहीं कर सकती। यही नहीं, केजरीवाल ने अपने घोषणा पत्र पर श्री हरिमंदिर साहिब की तस्वीर पर अपनी व चुनाव निशान झाडू़ की तस्वीर छाप कर एक घिनौनी हरकत की है। इससे सिखों के हृदय को ठेस पहुंची है।

पढ़ें : सुखबीर बोले, मेंटल हो गई है केजरीवाल की टीम

उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने अपनी बयानबाजी से स्पष्ट कर दिया कि उनको सिखों की भावनाओं से कोई सरोकार नहीं है। मक्कड़ ने अन्य राजनीतिक पार्टियों से अपील की कि वे आपसी बयानबाजी में किसी भी धर्म से संबंधित पवित्र ग्रंथ का निरादर न करें।

पढ़े : केजरी बोले, आप उम्मीदवारों की होगी खून व मूत्र की औचक जांच

आशीष खेतान ने मांगी माफी

दूसरी ओर आशीष खेतान ने पूरे मामले पर सार्वजनिक माफी मांगी है। उन्होंने कहा, मैं भूलवश इस तरह की बारत बोल गया। मेरा श्री गुरुग्रंथ साहिब की आवमानना या किसी की भावना को इेस पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था। मैं अपने बयान के लिए माफी चाहता हूं।

खेतान ने कहा कि घोषणा पत्र जारी करने के कार्यक्रम दौरान उनके मुंह से अनजाने में निकले कुछ शब्दों के लिए वह माफी मांगते हैं। उनका इरादा किसी भी वर्ग, समुदाय अथवा व्यक्ति विशेष की भावनाओं को आहत करना नहीं था।

पढ़े : केजरी बोले, आप उम्मीदवारों की होगी खून व मूत्र की औचक जांच

आप की शांति व सद्भाव बिगाड़ने की साजिश, पाक से मिल रहे करोड़ों रुपये : रवनीत बिट्टू

कांग्रेस, अकाली दल व भाजपा के नेता इस प्रकरण पर आम आदमी पार्टी पर निशाना साध रहे हैं। भाजपा ने मंगलवार को इसके खिलाफ प्रदर्शन किया था और आप नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। बुधवार को लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने आप पर निशाना साधा। उन्हाेंने कहा कि आप के नेता चुनावी फायदे के लिए पंजाब का माहौल खराब करने की कोशिश में लगे हैं। वे इस तरह के हथकंडों से समाज में भाईचारा बिगाड़ कर दंगे कराना चाहते हैं। रवनीत ने कहा कि पाकिस्तानी एजेंसियां पंजाब में शांति और सद्भाव के माहौल को बिगाड़ने के लिए करोड़ों रुपये दे रही हैं।


Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!