जागरण संवाददाता, अमृतसर

भारतीय जनता पार्टी में पैदा हुआ गतिरोध थमता दिखाई नहीं दे रहा है। पार्टी द्वारा हाल ही में घोषित किए गए जिला पदाधिकारियों में से कुछ एक मनमाफिक पद न मिलने से नाराज चल रहे है। फिलहाल वह कुछ खोलकर बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन पहली ही बैठक में उनकी गैर हाजिरी कुछ इस तरफ ही इशारा करती है। जिला प्रधान आनंद शर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में नवनियुक्त जिला प्रभारी उमेश शारदा पहली बार पहुंचे।

शारदा ने बैठक में भाजपाइयों को एकजुटता को तो पाठ पढ़ाया, लेकिन प्रभारी बनने के बाद पहली बार अमृतसर पहुंचे प्रभारी को सिरोपा डाल सम्मानित तक करना उचित नहीं समझा गया। पूर्व में नवनियुक्त पदाधिकारियों को भी सिरोपा आदि डाल सम्मानित करने की परंपरा रही है। लेकिन आज हुई बैठक में न ही प्रभारी और न ही नवनियुक्त पदाधिकारियों को ही सम्मानित किया गया। बैठक के बाद इसकी खासी चर्चा भी रही। उधर, दूसरी तरफ प्रदेश अध्यक्ष अध्यक्ष श्वेत मलिक के खासमखास रा¨जदर महाजन पप्पू को उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है, पर वह इससे संतुष्ट नहीं है। यही वजह रही कि घोषणा से पूर्व ही पप्पू भाजपा के सभी ग्रुपों से खुद ही लेफ्ट मार गए थे और आज वह बैठक में भी नहीं पहुंचे। कुछ ऐसा ही मामला पूर्व पार्षद मीनू सहगल और भाजयुमो के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे अविनाश शैला को भी है। इन दिनों को जिले में सचिव नियुक्त किया गया है, पर वह भी इससे रुष्ठ है। वह दोनों भी बैठक से गैर हाजिर रहे। जब इनसे बात की गई तो उन्होंने इस पर किसी भी प्रकार की टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। बताते चले कि स्वच्छ भारत मिशन के प्रदेश सह संयोजक रहे अनुज भंडारी ने घोषणा के बाद ही पद छोड़ दिया था। भाजयुमो के जिला प्रभारी नियुक्त किए गए सलिल कपूर को गृह जिले में लगाने का भी विरोध हो रहा है। प्रदेश पदाधिकारियों को पूर्व में कभी भी गृह जिले का प्रभार नहीं दिया गया है।

सिद्धांत की राजनीति से मजबूत होगा संगठन : शर्मा

भाजपा प्रधान आनंद शर्मा ने कहा कि जब से भाजपा बनी है, तब से आज तक पार्टी के लिए सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने तन मन से इसकी सेवा करते हुए कई कुर्बानियां दी। संगठन को महत्व देते हुए संगठन की मजबूती के लिए हमेशा उन्होंने सिद्धांत की राजनीति की है और संगठन को हमेशा सर्वोपरि माना है। संगठन के काम के लिए उन्होंने हर कुर्बानी दी है। आज वक्त है उनकी कुर्बानी को याद कर संगठन के लिए काम करने का है सिद्धांत की राजनीति संगठन को मजबूत करती है। वह संगठन के मजबूत होने से पार्टी कार्यकर्ता मजबूत होता है।

बैठक में हाजिर रहे पदाधिकारी

बैठक में महासचिव अनुज सिक्का, डा. राम चावला, उपाध्यक्ष संजीव खोसला, जरनैल ¨सह ढोट, बलदेव राज बग्गा, ज्योति बाला, सचिव सरबजीत ¨सह शंटी, शेखर लूथरा, एकता वोहरा, अमरीश कपूरिया, प्रचार सचिव विधु पुरी, कार्यालय सचिव पवन खन्ना, मीडिया सचिव गौरव भंडारी, युवा मोर्चा के प्रधान गौतम अरोड़ा, महिला मोर्चा अध्यक्ष अलका शर्मा, एससी मोर्चा केअध्यक्ष देवेंद्र पहलवान, जो¨गदर वाही जोगी आदि उपस्थित थे।

मिशन 2019 के लिए डट जाएं : शारदा

मिशन 2019 के लिए कार्यकर्ता पूर्ण रूप से डट जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों को पार्टी कार्यकर्ता घर—घर तक लेकर जाए और अधिकाधिक लोगों को पार्टी के साथ जोड़े।

—उमेश शारदा, प्रभारी भाजपा अमृतसर शहीर।

Posted By: Jagran