जेएनएन, अमृतसर। चणनके गांव निवासी युवती के अपने ही गांव के संबंध बन गए। परिवार के विरोध के बावजूद युवती ने प्रेमी से शादी कर ली। इसका पता जब परिजनों को चला तो उन्होंने दूल्हे के चचेरे भाई का अपहरण कर लिया और उससे जमकर  मारपीट की। आरोपियों  के  खिलाफ मामला  दर्ज कर दिया गया है।

एसआइ बलकार सिंह ने बताया कि चणनके निवासी बीर सिंह के बयान पर पुलिस ने गांव में ही रहने वाले रंजीत सिंह, हरपाल सिंह, दविंदर सिंह, तोलेवाल गांव निवासी गुरमुख सिंह उर्फ गोखा के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज किया है। बीर सिंह ने बताया कि उनका भतीजा सुखचरण सिंह 12वीं तक पढ़ा है। गांव की ही बलजीत कौर भी उनके भतीजे के साथ पढ़ती थी।

इस दौरान सुखचरण व बलजीत कौर में प्रेम संबंध बन गए। सुखचरण सिंह और बलजीत कौर ने विवाह करने की योजना बनाई। जब इसकी जानकारी बलजीत कौर के परिजनों को मिली तो उन्होंने उक्त रिश्ते का विरोध किया। इसके बावजूद बलजीत कौर ने चुपके से सुखचरण के साथ प्रेम विवाह कर लिया था। इसके बाद उन दोनों ने हाईकोर्ट में सुरक्षा को लेकर याचिका भी दायर की थी।

इस दौरान आरोपी रंजीत सिंह, दविंदर सिंह, गुरमुख सिंह और हरपाल सिंह ने बलजिंदर सिंह उर्फ बबलू का अपहरण कर लिया। बीर ने बताया कि उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी। परिवार के अन्य सदस्यों और पुलिस कर्मियों ने बलजिंदर को नहर किनारे जख्मी हालत में बरामद कर लिया, जबकि आरोपी मौके से फरार हो गए।

यह भी पढ़ेंः नन्‍ही बेटियों से पिता करता था हैवानियत, सहेली को बताया तो हुआ खुलासा

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!