अमृतसर [नवीन राजपूत]। भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित गांव भैणी के कांग्रेस सरपंच नानक सिंह का बेटा शमशेर सिंह उर्फ शेरा पाकिस्तान से आने वाली हेरोइन को ठिकाने लगाता था। अमृतसर देहाती पुलिस की हिरासत में पूछताछ के बाद पुलिस ने शेरा की निशानदेही पर कंटीली तार के पार भारतीय सीमा में स्थित खेत में दबाई गई 13 किलो 720 ग्राम हेरोइन बरामद की है। पुलिस को शेरा के चार मोबाइल से कई कांटेक्ट भी मिले हैं। पुलिस ने इनके आधार पर दर्जनभर संदिग्ध लोगों को राउंडअप किया है।

आइजी कार्यालय में प्रेस कांफ्रेंस में बॉर्डर जोन के आइजी सुरिंदरपाल सिंह परमार व एसएसपी देहाती विक्रमजीत दुग्गल ने बताया कि 13 सितंबर को साढ़े सात किलो हेरोइन और 28 लाख की ड्रग मनी के साथ शेरा को पकड़ा गया था। शेरा पाक तस्करों की ओर से भेजी जाने वाली हेरोइन ठिकाने लगाता था।

शेरा से पूछताछ के बाद पुलिस ने घरिंडा की ड्रेन के पास जमीन में दबाई गई एक किलो हेरोइन बरामद की थी। सोमवार रात शेरा ने बताया कि घरिंडा थाना के अंतर्गत गांव भरोवाल के पास कंटीली तार के पार भारतीय सीमा में उसने 13 किलो 720 ग्राम हेरोइन भी दबाकर रखी है। इस हेरोइन को उसने कुछ दिन बाद निकालना था और फोन पर मैसेज मिलने पर ठिकाने लगाना था।

आइजी ने बताया कि पुलिस ने कंटीली तार के पार खेत में हेरोइन दबाने की जानकारी बीएसएफ को दी। इस पर पुलिस बीएसएफ के जवानों के साथ उक्त स्थान पर गई और करीब दस मिनट की खोदाई के बाद हेरोइन बरामद कर ली। जिस खेत में हेरोइन दबाई गई थी उसके मालिक से भी पूछताछ की जा रही है।

यह पता लगाया जा रहा है कि हेरोइन की खेप छिपाने में उसकी भागीदारी है या नहीं। इसके साथ ही पुलिस ने सीमावर्ती गांवों में रहने वाले शेरा के कुछ करीबियों को भी राउंडअप किया है। शेरा से मिले चार मोबाइल फोन से उक्त संदिग्धों के साथ काफी बातचीत भी हुई है। वहीं पुलिस की खुफिया एजेंसियों ने सीमावर्ती गांवों में रहने वाले पुराने तस्करों की लिस्ट भी खंगालनी शुरू कर दी है।

परिवार और रिश्तेदारों का खाका खंगाल रही पुलिस

पुलिस सरपंच के परिवार और रिश्तेदारों का खाका खंगाल रही है। पता लगाया जा रहा है कि शेरा का परिवार या फिर रिश्तेदार भी नशा तस्करी में लिप्त हैं या नहीं। पुलिस ने संबंधित पुलिस थानों से दर्जनभर लोगों का रिकॉर्ड मंगवाया है।

छप्पड़ से मैगजीन सहित 27 जिंदा कारतूस बरामद

उधर सरहिंद के गांव मंडोफल में छप्पड़ से एक मैगजीन और 27 जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं। एएसआइ नरेश कुमार ने बताया कि मंडोफल के सरपंच मलकीत सिंह ने बताया कि छप्पड़ की लगभग दो एकड़ उक्त जमीन पिछले लगभग तीन माह से खाली पड़ी थी। उससे मिट्टी निकाली जा रही थी। इस दौरान मैगजीन और 27 जिंदा कारतूस निकले। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!