जागरण संवाददाता, अमृतसर

पंजाब सरकार की ओर से चलाए जा रहे तंदरुस्त पंजाब मिशन के तहत आज सेहत विभाग द्वारा अलग अलग दुकानों पर छापामारी की गयी। इस छापामारी के दौरान अलग अलग दुकानों के सैंपल लिए गए। इस संबंधी जानकारी देते हुए जिला सेहत अधिकारी लखबीर ¨सह भागोवालिया ने कहा कि उनकी टीम की ओर से बांसल स्वीट्स पर छापामारी की गयी। जिस दौरान बांसल स्वीट्स से पिन्नी, रसमलाई, मूंग दाल, मट्ठी नमकीन व दूध के सेंपल लिए गए।

भागोवालिया ने कहा कि बांसल स्वीट्स से पूछा गया कि खोया बनाने के लिए दूध किस से खरीद किया जाता है जिस दौरान उन्होंने कहा कि दूध अमूल का व कुछ दोधियों से खरीद किया जाता है। भागोवालिया ने कहा कि इससे पहले भी इस दुकान पर छापामारी की गयी थी व इस दुकान पर पहले से काफी सुधार देखने को मिला है।

जिला सेहत अधिकारी ने कहा कि इसके बाद गोपाल डेयरी व मदान डेयरी मजीठा रोड पर भी छापामारी की गयी व डेयरियों से दूध, दही, देसी घी के सैंपल लिए गए है। भागोवालिया ने कहा कि इनकी टीम की ओर से इन एंड आउट बेकरी में भी दबिश दे कर पीनट बिस्कुट, केक रस व साधारण बिस्कुट के नमूने लिए गए है।

भागोवालिा न कहा कि केकेबी फैक्टरी जोकि भराड़ीवाल में चल रही है की शिकायत दफ्तर मुख्यमंत्री पंजाब से प्राप्त हुइ थी इस आधार पर उनकी टीम की ओर से इस फैक्टरी पर छापामारी की गयी। उन्होंने कहा कि यह फैक्टरी काजू को प्रोसेस करने का काम करती है। छापामारी के दौरान काजू की क्वालिटी काफी हद तक ठीक पाई गयी है। इनकी कुछ खामियां भी पाई गयी थी।

उन्होंने कहा कि पाई गयी खामी के बारे फैक्टरी मालिकों को बता दिया गया है। इसके सैंपल लिए गए है। भागोवालिया ने कह कि इन सभी सैंपल को जांच के लिए खरड़ लेबोरेटरी में भेज दिया गया है। इन की रिपोर्ट प्राप्त होने पर ही आगामी कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर अश्वनी कुमार, गगनदीप कौर, सुरजीत ¨सह, परमजीत ¨सह मौजूद थे।

Posted By: Jagran