जागरण संवाददाता, अमृतसर

महानगर में गोलियां चलने की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रहीं। शहर में अवैध हथियार भी काफी पहुंच चुके हैं। जिनकी बरामदगी के लिए सीआइए स्टाफ की पुलिस सुराग मिलते ही उन ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। पुलिस कमिश्नर सुधांशु शेखर श्रीवास्तव ने बताया कि गोलियां चलने की वारदातों को जल्द से जल्द साल्व करने के लिए पुलिस को आदेश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि सभी थाना प्रभारियों और चौकी इंचार्जो को हिदायत दी गई है कि इस तरह की वारदातों के खिलाफ सख्ती से निपटा जाए। ताकि अपराधी छवि के लोगों के मन में कानून का खौफ बना रहे। इसी तरह से एसएसपी देहाती परमपाल ¨सह ने बताया कि आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

सुल्तान¨वड रोड निवासी बल¨वदर ¨सह ने बी डिवीजन थाने की पुलिस को बताया कि गुरनाम नगर निवासी पीरांवाला बाडार निवासी राहुल उनके साथ पुरानी रंजिश रखता है। कुछ दिन पहले उक्त आरोपितों के बच्चों के साथ उनके बच्चों का पतंगबाजी को लेकर विवाद हो गया था। बल¨वदर ¨सह ने बताया कि इस बीच राहुल, कुलदीप कुमार उर्फ लक्की, कंग और गुरनाम नगर निवासी साबी पहुंच गए। वह अपने घर के बाहर खड़े थे। इस बीच आरोपितों ने हवा में फायर करने शुरू कर दिए। उन्होंने डर के मारे अपनी जान बचाई। इसके बाद आरोपित जान से मारने की धमकियां देते हुए फरार हो गए। सब इंस्पेक्टर भू¨पदर ¨सह ने बताया कि चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने राहुल और कुलदीप ¨सह को गिरफ्तार कर लिया है। कब-कब चली गोलियां

- 16 दिसंबर को लोपोके इलाके में गैंगस्टर गुरप्रीत ¨सह ने कबड्डी खिलाड़ी की गोलियां मारकर हत्या कर दी।

- 13 दिसंबर को कोट खालसा में गैंगस्टर ढोला ने गोलियां चलाकर बल¨वदर बिल्ला की हत्या कर दी।

- 3 दिसंबर को छेहरटा की बाबा जीवन ¨सह कॉलोनी में एक घर के बाहर चली थीं ताबड़तोड़ गोलियां।

- 28 नवंबर को नकाबपोश युवकों ने सुभाष नगर इलाके में गोलियां चलाकर दो बच्चों को जख्मी कर दिया था।

- 28 नवंबर को नकाबपोश युवकों ने निमला एवेन्यू में रमन नाम के युवक पर फाय¨रग की थी।

- 20 नवंबर को आप के बागी नेता सुरेश शर्मा को गोलियां मारकर जख्मी कर दिया गया था।

- 11 नवंबर को छेहरटा की दाना मंडी में गोलियां चली थी। पुलिस ने सात लोगों पर किया था केस दर्ज।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!