संवाद सहयोगी, वेरका

पुलिस थाना हेर कंबो के क्षेत्र फतेहगढ़ शुकरचक में पुरानी रंजिश के चलते हमला कर एक परिवार के पांच लोगों को जख्मी कर दिया गया। जख्मियों की पहचान लवजीत ¨सह, सोनू, गुरप्रीत ¨सह, करण ¨सह और म¨हदर ¨सह के रूप में हुई है जिनको गुरु नानक देव अस्पताल अमृतसर में दाखिल करवाया गया है।

हमले में घायल हुए लवजीत ¨सह ने कहा कि वह पशुओं का व्यापार करता है। बीते शुक्रवार को उसने एक पशु का सौदा किया था जिसके पैसे देने के लिए वह शाम छह बजे के करीब घर से पैदल जा रहा था। जब वह संदीप ¨सह के घर के पास से गुजर रहा था तो संदीप ने उसके सिर पर भारी वस्तु से हमला कर दिया जिससे वह जमीन पर गिर गया। इससे संदीप व उसके अन्य साथियों ने उसको बुरी तरह से मारपीट करके जख्मी कर दिया व 15 हजार की नकदी छीन कर अपने घर में चले गए। उसने अपने बड़े भाई सोनू को फोन पर इसकी जानकारी दी। जब उसका भाई सोनू स्विफ्ट गाड़ी पर उसको लेने के लिए आया। संदीप व उसके साथियों ने उसके भाई सोनू को भी घेर लिया। गाड़ी में से बाहर निकाल कर उस पर हमला कर जख्मी कर दिया। गाड़ी भी बुरी तरह से तोड़फोड़ दी। जब वह अपनी जान बचा कर दौड़ कर घर आ गए तो संदीप ¨सह, रंजीत ¨सह, कुलवंत ¨सह समेत अपने तेजधार हथियारों से लैस अन्य साथियों सहित उनके घर आ गया। उनकी मारपीट करनी शुरू कर दी। जब उनको बचाने के लिए उसके पिता म¨हदर ¨सह, भाई गुरप्रीत ¨सह व भांजा करण ¨सह आगे आए तो उक्त आरोपितों ने हमला करके उनको जख्मी कर दिया। घर का दरवाजा बंद करके बाहर खड़े होकर काफी देर तक गाली-गलौज करते रहे। इसकी सूचना उन्होंने पुलिस थाना हेर कंबोज की पुलिस को दी।

जानकारी मिलने पर थाना मुखी मोहित कुमार ने पुलिस पार्टी सहित पहुंच कर उनको बाहर निकाला व अस्पताल दाखिल करवाया। लवजीत ¨सह ने कहा कि करीब तीन महीने पहले ही हमलावरों की ओर से उन पर हमला किया गया था। थाना मुखी मोहित कुमार ने कहा कि दोनों गुटों की ओर से दरखास्त आई है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran