अमृतसर [नितिन धीमान]। उड़ते पंजाब की उड़ान पर विराम लगाने में जुटी पंजाब पुलिस के कई जवान खुद ही बेपटरी हो चुके हैैं। प्रदेश में नशे के दलदल में फंसी जवानी को बचाने के लिए जिन कंधों पर जिम्मेदारी का बोझ है उनकी खुद की रगों में नशा जहर बनकर दौड़ रहा है। आधुनिक हथियारों से लैस यह पुलिस कर्मचारी नशे केे दलदल में फंस चुके हैैं। इसकी पुष्टि Dope test की रिपोर्ट से हुई है। जिसमें 50 फीसद पुलिस कर्मी नशे का शिकार पाए गए हैैं। यानी वह किसी न किसी रूप में नशे का सेवन करने के आदी हो चुके हैैं।

अमृतसर में देहाती पुलिस में कार्यरत 100 पुलिस कर्मचारियों का Dope test करवाने के लिए एसएसपी देहाती विक्रमजीत दुग्गल ने आदेश दिए हैैं। सरकारी मेडिकल कॉलेज स्थित स्वामी विवेकानंद नशा मुक्ति केंद्र में पिछले एक सप्ताह में 30 कर्मचारियों का Dope test किया गया है। इनमें से 15 पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली।

इन सभी के सैैंपल में मॉरफिन की मात्रा ज्यादा मिली। सेहत क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञों का कहना है कि इससे यह बात साफ है कि यह कर्मचारी अफीम या स्मैक लेते हैैं। नशा मुक्ति केंद्र द्वारा जांच के बाद इनकी रिपोर्ट जारी कर दी गई है। बड़ी संख्या में पुलिस कर्मचारियों की डोप टैस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पुलिस उच्चाधिकारी इन कर्मचारियों को नशे की दलदल से छुटकारा दिलवाने की जुगत निकालने में जुट गए हैैं। वहीं, कुछ दिन पहले सुरक्षा शाखा में तैनात पुलिसकर्मी कुलङ्क्षवदर ङ्क्षसह Dope test के लिए अपनी पत्नी के यूरिन का सैैंपल लेकर टेस्ट करवाने पहुंचा था। पकड़े जाने पर उसे सस्पेंड कर दिया गया था।

इंस्पेक्टर को दी जाती है रिपोर्ट

नशा मुक्ति केंद्र के इंचार्ज डॉ. राजीव अरोड़ा के अनुसार पुलिस कर्मचारियों का Dope test करने के रिपोर्ट जारी की जा रही है। यह रिपोर्ट संबंधित पुलिस कर्मी के साथ आने वाले इंस्पेक्टर को दे दी जाती है। इसके बाद इंस्पेक्टर द्वारा यह रिपोर्ट एसएसपी को दी जाती है।

पॉजिटिव मुलाजिमों के प्रति पुलिस विभाग का रवैया भी पॉजिटिव

पूलिस सूत्रों के अनुसार नशे की गिरफ्त में फंसे इन 15 कर्मचारियों को एसएसपी द्वारा सुधर जाने का एक मौका दिया गया है, क्योंकि इनके हाथों में आधुनिक हथियारों की कमान है तो यह जरूरी है कि इन्हें नशे की लत से छुटकारा दिलाया जाए और मुख्यधारा में वापस लाया जाए। सूत्रों का कहना है कि इन कर्मचारियों की ओट सेंटरों में उपचार प्रक्रिया शुरू करवाई जाएगी।

पुलिस लाइन में योग कक्षाएं लगेंगी

अमृृृृृतसर देहाती के एसएसपी विक्रमजीत दुग्गल का कहना हैै कि पुलिस लाइन में योग कक्षाएं लगेंगी। Dope test में जिन कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है उन्हें मेडिटेशन भी करवाया जाएगा। वहीं अगर किसी कर्मचारी ने Dope test में धांधली करने का प्रयास किया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!